मुख्यमंत्री विवाह योजना में शादी कर वापस आ रही दुल्हन सहित अनेक घायल

कौटिल्य वार्ता
By -
0

लखनऊ,उत्तरप्रदेश

अपना सोचा हों नही हरि सोचा तत्काल.कहते है कि किस्मत के आगे किसी का भी जोर नहीं चलता। हाथों में मेंहदी लगाए, सुखी संसार के सपने आंखों में बसाए नई-नवेली दुल्हन दुर्घटना में काल के गाल में समा गई। अभागी किस्मत ने एक भी दिन उसे ससुराल में रहने का अवसर नहीं दिया। मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह कार्यक्रम में शादी होने के बाद विदा कराकर घर ले जाते समय कार अनियंत्रित होकर पेड़ से टकरा गई। जिसमें सवार दुल्हन सहित 8 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। मौके पर ही दुल्हन की मौत हो गई। सभी घायलों को उपचार के लिए अस्पताल ले जाया गया। जहां भर्ती कर लिया गया।

PunjabKesari
कोतवाली फतेहगढ़ के ग्राम नया नगला महरुपुर सहजू निवासी प्रदीप के साथ थाना कमालगंज के ग्राम कनकौली निवासी किरन का विवाह कायमगंज ब्लाक में आयोजित मुख्यमंत्री विवाह योजना में बुधवार को सम्पन्न हुआ था। समारोह में सभी विवाह के कार्यक्रम सम्पन्न होने के बाद प्रदीप विदा कराके किरन को कार से अपने घर कमालगंज ले जा रहा था। कार में उसके साथ उसकी बहन प्रियंका व उसका बहनोई नीरज पुत्र छविराम, लकी पुत्र प्रदीप, चाचा सतीश, चाची सीमा व दोस्त सुरेश चन्द्र पुत्र लालसाय निवासी हुसैनपुर नौखंडा भी बैठे थे। ओवरटेक करने के दौरान कार जैसे ही शुक्ररुल्लापुर के निकट गुरुकुल विद्यालय के पास पहुंची, तभी अनियंत्रित होकर पेड़ से टकरा गई। इस दौरान दुल्हन समेत सभी आठ लोग गंभीर रुप से घायल हो गए।

सूचना पर पहुंची पीआरबी ने एंबुलेंस बुलाकर सभी घायलों को कार से निकालकर उपचार के लिए लोहिया पहुंचाया। बताया जा रहा है कि किरन की मौके पर ही मौत हो गई। इस घटना से परिजनों में कोहराम मच गया। वहीं सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार किरन के पति की 6 माह पूर्व मौत हो गई थी। किरन का विवाह प्रदीप के बड़े भाई दीपू के साथ हुआ था। दोनों परिवार की रजामंदी से छोटे भाई प्रदीप के साथ पुन: विवाह कराया गया था। गभीर हालत होने पर सतीश को मेडिकल कालेज सैफई रेफर किया गया है।

Post a Comment

0Comments

Please Select Embedded Mode To show the Comment System.*