योगिराज के शहर में गेंगवार,एक की दशा चिंताजनक, दोबार कई चक्र हुई फायरिग

गोरखपुर,उत्तरप्रदेश


प्रापर्टी डीलरों के दो गुटों में एक जमीन के विवाद को लेकर सोमवार को फिल्मी अंदाज में गैंगवार हो गया। देवरिया रोड पर सिंघड़िया निकट बिशुनपुरवा मोड़ के पास वारदात की शुरूआत हुई। यहां दोनों पक्षों ने यहां सात राउंड गोलियां चलाई। फिर एक पक्ष शहर की ओर भागने लगा जिसके बाद करीब डेढ़ किलोमीटर तक पीछा कर मोहद्दीपुर आरकेबीके के पास दोबारा दोनों पक्ष आमने-सामने आया यहां भी तीन राउंड फायरिंग हुई जिसमें एक प्रापर्टी डीलर गंभीर रूप से घायल हो गया।


बदमाशों की फायरिंग में सड़क पर भगदड़ मच गई। घायल प्रापर्टी डीलर के साथी उसे जिला अस्पताल ले गए। हालत गंभीर होने पर डॉक्टरों ने मेडिकल कालेज रेफर कर दिया। उधर, गोली-बारी की सूचना के बाद एसएसपी से लगायात भारी संख्या में पुलिस फोर्स सड़कों पर उतर गई। एसएसपी ने घटनास्थल का निरीक्षण किया। आरोपितों की तलाश में कैंट पुलिस के साथ ही क्राइम ब्रांच की टीम ने छापेमारी शुरू कर दी।


खोराबार का रहने वाला सुनील पासवान और भगत चौराहा निवासी जितेंद्र यादव प्रॉपर्टी डीलिंग का काम करते हैं। दोनों के बीच एक जमीन खरीदने को लेकर के पिछले कुछ दिनों से विवाद चल रहा है। इसको लेकर दो दिन पहले भी दोनों गुटों के बीच कहासुनी और मारपीट हुई थी। सोमवार को सुनील पासवान अपने साथियों के साथ कार से शहर की तरफ आ रहा था। कैंट क्षेत्र में बिशुनपुरवा मोड़ पर जितेंद्र यादव ने अपने साथियों के साथ सुनील को घेर लिया। कहासुनी मारपीट के बाद दोनों गुट के बीच यहां फायरिंग शुरू हो गई। मौके पर करीब 7 राउंड गोलियां चली जिसमें कोई हताहत नहीं हुआ। जितेन्द्र यादव पक्ष यहां भारी पड़ा रहा था इस बीच सुनील ने फोन कर अपने साथियों को बुला लिया।


 


जिसके बाद जितेंद्र पक्ष के लोग बाइक लेकर भाग निकले। आरोप है कि सुनील ने अपने साथियों के साथ उनका पीछा शुरू कर दिया और मोहद्दीपुर में आरकेबीके के पास जितेंद्र को घेर लिया। बीच सड़क पर घेरकर कर पीटने के बाद पेट और हाथ में गोली मार दी। वारदात के बाद हमलावर शहर की तरफ भाग निकले। जितेंद्र की सूचना देने पर पहुंचे साथी उसे जिला अस्पताल ले गए, जहां से मेडिकल कालेज रेफर कर दिया गया। 


घटना की सूचना मिलने पर एसएसपी जोगेंद्र कुमार, एसपी सिटी डॉ. कौस्तुभ, सीओ, कैंट सुमित शुक्ला, फोर्स के साथ पहुंच गए। कैंट पुलिस और क्राइम ब्रांच की टीम ने सुनील और उसके साथियों की तलाश शुरू कर दी है। मौके से पुलिस को एक बाइक, डंडा और कार का टूटा हुआ बंपर मिला है। बाइक कुशीनगर में तैनात एक दरोगा की बताई जा रही है। एसएसपी जोगेंद्र कुमार ने बताया कि हमलावरों की तलाश चल रही है। जल्द ही उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाएगा। कानून तोड़ने वालों को छोड़ा नहीं जाएगा। सबके के खिलाफ कड़ी कार्रवाई होगी।


 


Comments