दाह संस्कार के आठवें दिन बाद अपने घर लौटा युवक,गांव वालों ने समझा भूत!

कौटिल्य वार्ता
By -
0

 लखनऊ/बस्ती


जाको राखे साइयां मार सके ना कोई यह मुक्ति सहारनपुर के एक घटना से स्पष्ट हो जाती है एक व्यक्ति अपने घर से गुम हो जाता है हम शक्ल को गांव वाले मरा हुआ प्रकार इसका डा दाह संस्कार कर देते हैं दाह संस्कार के चार दिन बाद गायब युवक गांव में वापस आता है उसे व्यक्ति को मारा देखकर के गांव के लोग भूत भूत का कर चिल्लाने लगते हैं स्थिति आ जाती है कि सारे गांव के लोग भूत के दर से गांव छोड़ने की स्थिति में आ जाते हैं हुआ यह की संस्कार के आठवें दिन प्रमोद नाम का युवक वापस आ गया यद्यपि मन बहुत खुश थी लेकिन परिवरीजन और गांव के लोग उसे भूत समझकर उसे भाग रहे थे वस्तुत 21 जनवरी को मुजफ्फरपुर नगर के प्रमोद की शक्ल की तरह दिखने वाला एक अमृत युवक का फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ इसके बाद घर वालों के हाथ पांव और चोट के निशान से उसकी पहचान अपने बेटे प्रमोद के रूप में कर दी और उसका अंतिम संस्कार कर दिया गांव के चंद्र प्रजापति का परिवार रहता है उनके तीन बेटे हैं प्रमोद कुमार दूसरे नंबर का है उसके मरने के बाद घर भर के लोग फोन करते-करते थक गए लेकिन कोई रिस्पांस नहीं रहा है इससे घर वाले परेशान होकर अनहोनी की आशंका करने लगे इसी बीच एक अज्ञात लाश प्रमोद की हमशक्ल लोगों को मिली जिसे देखकर के लाश घर पर परिजनों ने प्रमोद की पहचान की और हाथ में गोदने के हिसाब से लैस पर पाक लिखा हुआ था और प्रमोद भी पाक लिखवाया हुआ था।

 5 फरवरी को उसकी रस में पड़ी होनी थी इसी बीच इसी बीच प्रमोद कुमार रस में पगड़ी के दिन वहां पहुंच गया उसको देखते ही गांव वाले बहुत-बहुत चिल्लाने लगे एक दुकानदार ने भूत समझकर कोल्ड ड्रिंक देने से मना कर दिया वह दुकान के अंदर जाकर छुप गया है लेकिन जब उसने जीवित होने की खबर गांव में फैली तो गांव के लोगों को देखने का तांता लग गया है।

Post a Comment

0Comments

Please Select Embedded Mode To show the Comment System.*