मोहर्रम पर परम्परागत जुलूस ही निकालने की अनुमति

 बस्ती 03 अगस्त 

 मोहर्रम पर्व के अवसर पर परम्परागत जुलूस निकालने की अनुमति दी जायेंगी। शासन के इस निर्देश का सभी अन्जुमन अनुपालन करते हुए जुलूस निकालने के लिए संयोजक का नाम, पता एवं मोबाइल नम्बर, रूट का विवरण तथा जुलूस का समय संबंधित थाना में उपलब्ध करा दें। उक्त जानकारी जिलाधिकारी श्रीमती प्रियंका निरंजन ने दी है। कलेक्टेªट सभागार में आयोजित जिला शान्ति समिति की बैठक में उन्होने कहा कि अन्जुमन द्वारा दी गयी इस सूचना के आधार पर सुरक्षा, साफ-सफाई, पेयजल, टैªफिक आदि व्यवस्था में सहूलियत होगी। यदि किसी जुलूस में महिलाए भी जाती है तो इसकी भी सूचना उपलब्ध करा दें ताकि महिला पुलिस की व्यवस्था की जा सकें।


उन्होने सभी उप जिलाधिकारियों को निर्देश दिया कि मोहर्रम के जुलूस के रास्ते पर राजस्व कर्मी, पुलिस कर्मी की स्थान-स्थान पर तैनाती कर दें। सभी अन्जुमन के संयोजक की सूची प्राप्त कर लें। विद्युत विभाग एसडीओ तथा जेई की तैनाती करेंगे जो निर्धारित मार्ग पर बिजली के तार, पोल की स्थिति का निरीक्षण करके सही करायेंगे। संबंधित नगर निकाय या ग्राम पंचायत साफ-सफाई की व्यवस्था करेंगी। पेयजल के लिए  आवश्यकतानुसार पानी का टैंकर रास्ते में लगाया जायेंगा। प्रतिबन्धित पशुओ के विचरण पर रोक रहेंगी।
उन्होने लोगों से अपील किया कि इस दौरान सोशल मीडिया पर प्रसारित संदेश पर सजगता का परिचय देते हुए संबंधित थानाध्यक्ष, सीओ या उच्चाधिकारी से सम्पर्क कर पुष्टि कर लें। अफवाहों पर विल्कुल ध्यान न दें, 112 नम्बर पर तत्काल डायल करें।
पुुलिस अधीक्षक आशीष श्रीवास्तव ने कहा कि जुलूस के साथ 01 एम्पलीफायर तथा 01 डीजे की अनुमति दी जायेंगी। उन्होने कहा कि मातमी जुलूस के दौरान परम्परागत रूप से अनुमन्य जंजीर एवं अन्य वस्तुओं का उपयोग किया जा सकेंगा। अस्त्र शस्त्र लेकर चलने की अनुमति नही होगी। उन्होने अवगत कराया कि अब फोल्डिंग ताजिया भी बनने लगे है, अधिक ऊचाई वाले फाल्डिंग ताजिये का प्रयोग करे, तो इसको ले जाने में सुविधा होगी। उन्होने अपील किया कि ताजिया की ऊचाई मानक के अनुसार रखें। अन्जुमन के संयोजक एंव अन्य पदाधिकारी जुलूस के रास्ते का स्वयं भी निरीक्षण कर ले तथा किसी प्रकार की समस्या होने पर संबंधित एसडीएम को अवगत करा दें।


बैठक में अध्यक्ष सईद खॉ, सरदार जगवीर सिह, मो0 नसीम, पुनीत ओझा, साजिद गुमनाम, राजेश उपाध्याय ने अपने विचार व्यक्त किए तथा आवश्यक सुझाव दिये। मोहर्रम के दौरान परम्परागत जुलूस निकालने पर सहमति व्यक्त किया। वक्ताओं ने प्रशासन का ध्यान ढीले तारों को ऊचा करने, जुलूस के मार्ग पर साफ-सफाई एंव पेड़ों की छटाई, जुलूस के दौरान रूट डायवर्जन तथा दुलारी वाटिका के पीछे बिजली का पोल ठीक करने की ओर ध्यान दिलाया।
बैठक का संचालन अपर जिलाधिकारी अभय कुमार मिश्र ने किया। इसमें ज्वाइंट मजिस्टेªट/एसडीएम हर्रैया अमृत पाल कौर, एसडीएम शैलेष दुबे, आनन्द श्रीनेत, जी.के. झा, सीओ प्रीती खरवार, अधिशासी अभियन्ता विद्युत एम.के. गौड़, एएमए जिला पंचायत विकास मिश्र, जिला समन्वयक राजाशेर सिंह, जगदीश शुक्ल, फूलचन्द्र श्रीवास्तव, गुलाब सोनकर, अजीत, मो0 सिद्दीकी, राधेश्याम कमलापुरी तथा जिला शान्ति समिति के सदस्यगण उपस्थित रहें।
जिलाधिकारी श्रीमती प्रियंका निंरजन तथा पुलिस अधीक्षक आशीष श्रीवास्तव ने अधिकारियों एंव अन्जुमन कमेटी के सदस्यों के साथ रोडवेज, पुरानी बस्ती, पंचायती मंदिर एंव कर्बला जाकर स्थलीय निरीक्षण किया। आने-जाने के मार्ग को देखा तथा व्यवस्थाओं के लिए अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिये।
Comments
Popular posts
ॐ नमो ब्रह्मनदेवाय गो ब्राह्मण हिताय च!
30 लाख की फिरौती के फ़ेर में छात्रा की हत्या
सरकार को कानून व्यवस्था का दंभ, अपराधियों ने किया नाक में दम! लखनऊ में 7 साल की मासूम से अगवा कर दरिंदगी; 1 आरोपी गिरफ्तार, दूसरा फरार! हाईकोर्ट के पास सरेराह चौराहे पर महिला वकील की मोबाइल छीन लुटेरा फरार छात्रों के दो गुटों में संघर्ष, एक की मौत!
Image
योगी के यूपी में दो साल में जबरन धर्मांतरण के 291 मामले दर्ज, 507 गिरफ्तार
Image
साई बाबा के पिता पिंडारी मुसलमान थे,इनका काम भारत मे लूटपाट करना था
Image