एमपी,एमएलए अपनी अपनी निधि अस्पतालों के विकास व संरक्षण पर खर्च करें. मुख्यमंत्री

 बस्ती/लखनऊ


प्रदेश में स्वास्थ्य सेवाओं की बदहाली को देखते हुए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने प्रदेश कभी सांसदों विधायकों और विधान परिषद के सदस्यों से आग्रह किया है कि वे अपने निधि का उपयोग अपने क्षेत्र के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में स्वास्थ्य सुविधाओं की बहाली ,उपकरणों की खरीद और मैन पावर की आपूर्ति के लिए तथा साफ सफाई के लिए लगाएं .

योगी आदित्यनाथ का आग्रह उस समय आया है जब प्रदेश में महामारी का संकट कुछ कम हो रहा है और जनप्रतिनिधि क्षेत्र में दिखाई नहीं पड़ रहे हैं ऐसे में मुख्यमंत्री के आग्रह वास्तव में बहुत ही सराहनीय कदम है .पर विधायक निधि और सांसद निधि तो सड़कों पर खर्च होती है अगर वह स्वास्थ्य सेवाओं पर खर्च हो जाएगी तो उन्हें क्या मिलेगा इसी के लिए थोड़े ही जनप्रतिनिधि बने थे .मुख्य मंत्री ने अपने जनप्रतिनिधियों को निर्देशित करते हुए कहा है कि अपने अपने क्षेत्र में कम से कम एक एक प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र और एक सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र को गोद ले लें .उन्होंने कहा कि सभी एमएलए सभी एमएलसी अपने विधायक निधि से सीएचसी पीएचसी को बेहतर बनाएं

यदि मुख्यमंत्री की बात अमल में आ गई तो कम से कम 2022 के चुनाव को भी ध्यान में रखते हुए पार्टी के भविष्य को रखते  हुए और प्रदेश के जनता के स्वास्थ्य सेवाओं को देखते हुए यह बहुत बड़ा कदम होगा . पर उनकी बात जनप्रतिनिधि मानेगे ?इस बात पर  प्रश्न चिह्न लगा हुआ है. ?

Comments
Popular posts
ॐ नमो ब्रह्मनदेवाय गो ब्राह्मण हिताय च!
30 लाख की फिरौती के फ़ेर में छात्रा की हत्या
सरकार को कानून व्यवस्था का दंभ, अपराधियों ने किया नाक में दम! लखनऊ में 7 साल की मासूम से अगवा कर दरिंदगी; 1 आरोपी गिरफ्तार, दूसरा फरार! हाईकोर्ट के पास सरेराह चौराहे पर महिला वकील की मोबाइल छीन लुटेरा फरार छात्रों के दो गुटों में संघर्ष, एक की मौत!
Image
योगी के यूपी में दो साल में जबरन धर्मांतरण के 291 मामले दर्ज, 507 गिरफ्तार
Image
साई बाबा के पिता पिंडारी मुसलमान थे,इनका काम भारत मे लूटपाट करना था
Image