वर्तमान सरकार में विभिन्न योजनाओं में लाभार्थियों की संख्या में आशातीत बढोत्तरी।।आशुतोष निरंजन,कलक्टर बस्ती

 


बस्ती,24 दिसम्बरवर्तमान सरकार के कार्यकाल में लाभार्थियों की संख्या में आशातीत वृद्धि हुयी है। इसमें सभी पात्र व्यक्तियों को

लाभान्वित करने का प्रयास किया गया है। राष्ट्रीय वृद्धावस्था पंेशन योजना में लाभार्थियों की संख्या वर्ष 2017-18 में 64137 से बढकर 107669 हो गयी है। उक्त जानकारी जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन ने दी है।  

उन्होने बताया कि दिव्यांगजन सशक्तिकरण द्वारा संचालित दिव्यांग पंेशन/कुष्ठावस्था पेंशन योजना में लाभार्थियो की संख्या वर्ष 2017-18 में 9940 से बढकर 12254 हो गयी है।
उन्होने बताया कि महिला कल्याण विभाग में निराश्रित विधवा महिला पेंशन योजना में लाभार्थियों की संख्या वर्ष 2016-17 में 24637 से बढकर 38464 हो गयी है।
 समाज कल्याण विभाग,
उन्होने बताया कि राष्ट्रीय वृद्धावस्था पंेशन योजना में वर्ष 2017-18 में 64137 लाभार्थियों को 30.86 करोड़ रूपये पेंशन का वितरित किया गया। वर्ष 2020-21 में लाभार्थियों की संख्या बढकर 107669 हो गयी, जिन्हें 41.11 करोड़ रूपये पेंशन का वितरित किया गया। वर्ष 2018-19 में 68703 लाभार्थियों को 32.51 करोड़ रूपये तथा वर्ष 2019-20 में 91177 लाभार्थियों को 48.20 करोड़ रूपये पेंशन वितरित किया गया।
उन्होने बताया कि राष्ट्रीय पारिवारिक योजना में वर्ष 2017-18 में 585 परिवारों को लाभान्वित किया गया, जबकि 2020-21 में 1499 परिवारों को आर्थिक सहायता दी गयी। वर्ष 2017-18 में 585 परिवारों को रू0 1.75 करोड़, वर्ष 2018-19 में 868 परिवारों को रू0 2.60 करोड़, वर्ष 2019-20 में 1099 परिवारों को रू0 3.29 करोड़ तथा वर्ष 2020-21 में 1499 परिवारों को 4.49 करोड़ रूपया आर्थिक सहायता दी गयी।
उन्होने बताया कि मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना में वर्ष 2017-18 में 184, वर्ष 2018-19 में 691, वर्ष 2019-20 में 687 जोड़ो का विवाह कराया गया। वर्ष 2020-21 में नवम्बर तक 65 जोड़ों का विवाह कराया जा चुका है।
उन्होने बताया कि सामान्य जाति शादी अनुदान योजना के अन्तर्गत वर्ष 2017-18 में 492 कन्याओं की शादी के लिए 98.40 लाख रूपया, वर्ष 2018-19 में 435 कन्याओं की शादी के लिए रू0 87 लाख तथा वर्ष 2019-20 में 1085 कन्याओं की शादी के लिए रू0 02.17 करोड दिया गया है।
उन्होने बताया कि अनुसूचित जाति शादी अनुदान योजना में वर्ष 2017-18 में 952 कन्याओं की शादी के लिए रू0 1.90 करोड़, वर्ष 2018-19 में 952 कन्याओं की शादी के लिए 1.90 करोड़ रूपया तथा वर्ष 2019-20 में 1909 कन्याओं की शादी के लिए 3.81 करोड़ रूपया दिया गया है।    
उन्होने बताया कि अनुसूचित जाति अत्याचार उत्पीड़न योजना में वर्ष 2017-18 में 182 व्यक्तियों को रू0 1.86 करोड़, वर्ष 2018-19 में 263 व्यक्तियों को रू0 02.63 करोड़ तथा वर्ष 2019-20 में 289 व्यक्तियों को रू0 3.35 करोड़ आर्थिक सहायता दी गयी है। वर्ष 2020-21 में नवम्बर माह तक 123 व्यक्तियों को रू0 2.21 करोड़ वितरित किया गया है।
अल्पसंख्यक कल्याण विभाग,
उन्होने बताया कि अल्पसंख्यक समुदाय की कन्याओं की शादी के लिए सरकार द्वारा वर्ष 2017-18 में 415 कन्याओं की शादी के लिए 83 लाख रूपये, वर्ष 2018-19 में 362 कन्याओं की शादी के लिए 72 लाख रूपया, वर्ष 2019-20 में 516 कन्याओं की शादी के लिए 1.03 करोड़ रूपया अनुदान दिया गया है।
उन्होने बताया कि प्रधानमंत्री जनविकास कार्यक्रम के अन्तर्गत वर्ष 2017-18 में चयनित विकास खण्ड रामनगर में 18 आगनवाड़ी केन्द्र तथा 05 ग्रामीण पाइप पेयजल योजना का कार्य कराया जा रहा है। इस योजना के अन्तर्गत वर्ष 2018-19 में रामनगर ब्लाक में 07 आगनवाड़ी केन्द्र तथा 05 ग्रामीण पाइप पेयजल योजना का निर्माण कराया जा रहा है।    
उन्होने बताया कि वर्ष 2019-20 में रामनगर ब्लाक में 14 मदरसों में स्मार्ट क्लास तथा चार सैय्यायुक्त यूनानी एवं आयुर्वेदिक अस्पताल का निर्माण कराया जायेंगा। वर्ष 2020-21 में राजकीय इण्टर कालेज बस्ती में छात्रावास, राजकीय कन्या इण्टर कालेज बस्ती में, सी.एस.सी., राजकीय आईटीआई बस्ती में 08 अतिरिक्त कक्षा, साॅउघाट ब्लाक के कड़राखास राजकीय इण्टर कालेज में, रामनगर में राजकीय आईटीआई का निर्माण कराया जायेंगा।
दिव्यांगजन सशक्तिकरण विभाग,
उन्होने बताया कि दिव्यांगजन सशक्तिकरण द्वारा संचालित दिव्यांग पंेशन/कुष्ठावस्था पेंशन योजना के अन्तर्गत वर्ष 2017-18 में 9940 व्यक्तियों को रू0 1.51 करोड़ की धनराशि वितरित की गयी जो वर्ष 2020-21 में बढकर 12254 व्यक्तियों को रू0 1.91 करोड़ हो गयी है। वर्ष 2018-19 में 10057 व्यक्तियों को रू0 1.56 करोड़ तथा वर्ष 2019-20 में 11942 व्यक्तियों को रू0 1.85 करोड़ पेंशन की धनराशि वितरित की गयी।
  उन्होने बताया कि दिव्यांगजन सशक्तिकरण द्वारा संचालित दिव्यांग पंेशन/कुष्ठावस्था पेंशन योजना में लाभार्थियो की संख्या वर्ष 2017-18 में 9940 से बढकर 12254 हो गयी है। दिव्यांगो के लिए दुकान निर्माण/दुकान संचालन योजना के अन्तर्गत वर्ष 2017-18 में 05 व्यक्तियों को 50 हजार रूपये, वर्ष 2018-19 में 06 व्यक्तियों को 60 हजार रूपये तथा वर्ष 2019-20 एवं 2020-21 में 11-11 व्यक्तियों को 1.10 लाख-1.10 लाख रूपये की सहायता दी गयी है।
उन्होने बताया कि दिव्यांगो को कृत्रिम अंग/सहायक योजना के अन्तर्गत वर्ष 2017-18 में 676, वर्ष 2018-19 में 495, वर्ष 2019-20 में 263 तथा वर्ष 2020-21 में 325 दिव्यांग व्यक्तियों को कृत्रिम अंग वितरित किया गया है।
पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग,
उन्होने बताया कि पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग में शादी अनुदान योजना में वर्ष 2017-18 में 1850 कन्याओं की शादी के लिए रू0 3.70 करोड़, वर्ष 2018-19 में 1910 कन्याओं की शादी के लिए रू0 3.82 करोड़, वर्ष 2019-20 में 2040 कन्याओं की शादी के लिए रू0 4.08 करोड़ अनुदान दिया गया। वर्ष 2020-21 में नवम्बर माह तक 192 कन्याओं की शादी के लिए रू0 38 लाख अनुदान दिया गया है।
महिला कल्याण विभाग (प्रोबेशन),
उन्होने बताया कि महिला कल्याण विभाग में निराश्रित विधवा महिला पेंशन योजना में लाभार्थियों की संख्या वर्ष 2016-17 में 24637 से बढकर 38464 हो गयी है।  महिला कल्याण विभाग में निराश्रित महिला पेंशन योजना में वर्ष 2016-17 में 24637 महिला को रू0 1172.81 लाख, वर्ष 2017-18 में 26700 महिला को रू0 155.37 लाख, वर्ष 2018-19 में 30767 महिला को रू0 1768.54 लाख, वर्ष 2019-20 में 35997 महिला को रू0 2047.83 लाख, वर्ष 2020-21 में माह नवम्बर तक 38464 महिला को रू0 966.51 लाख पंेशन दिया गया।
उन्होने बताया कि मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना में वर्ष 2019-20 में 5787 कन्याओं को रू0 112.66 लाख, वर्ष 2020-21 में माह नवम्बर तक 235 कन्याओं को रू0 4.2 लाख का अनुदान दिया गया।
उन्होने बताया कि घरेलू हिंसा एवं अत्याचार से पीड़ित महिलाओं की सुरक्षा एवं सहायता के लिए जिला महिला चिकित्सालय में वन स्टाप सेन्टर 350 वर्ग मीटर की भूमि पर रू0 48.66 लाख से बनवाया जा रहा है।
Comments