बस्ती में दर्दनाक घटना, सरयू नदी में स्नान कर रहे तीन डूबे, एक की मौत

कौटिल्य वार्ता
By -
0

 



दुबौलिया। जिले के दुबौलिया थाना क्षेत्र के अंतर्गत सरयू नदी के मोजपुर गांव के करीब सरयू नदी में स्नान कर रहे 3 लोग गहरे पानी में डूब गए। सूचना मिलते ही स्पर पर कार्य कर रहे मजदूरों ने तुरंत नदी में कूदकर दो लोगों की जान को बचाया। घटना की सूचना पर पहुंची दुबौलिया पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। वहीं परिजनों का रो रो कर बुरा हाल है।


    दुबौलिया थाना क्षेत्र के अंतर्गत पारा गांव निवासी संदीप सिंह उर्फ रानू पुत्र राम धारी सिंह 27 वर्ष , प्रदीप सैनी पुत्र घनश्याम निवासी पिपरी राम कुमार पुत्र श्रीराम 25 निवासी सिंघोरिया अयोध्या दोपहर में 12:00 बजे के करीब मोजपुर के पास सरयू नदी में स्नान कर रहे थे कि तीनों लोग गहरे पानी में डूब गए। बंधे पर पर स्पर पर कार्य कर रहे गुड्डू निषाद, प्रमोद कुमार, भगवत, ध्रुव, मुन्ना निषाद एवं स्थानीय दयानाथ गिरि ने डूबते हुए लोगों को अपनी जान को जोखिम में डालकर प्रदीप सैनी व रामकुमार को बचाया। बचाने वाले लोगों ने बताया कि तीसरे व्यक्ति डूबने की जानकारी न मिलने से देरी हुई लेकिन जैसी ही जानकारी मिली हम लोगों ने तुरन्त नदी में कूद कर डूबे हुए संदीप सिंह को बाहर निकाला तब तक देर हो चुकी थी।

   घटना की जानकारी मिलते ही क्षेत्र में हड़कंप मच गया।बड़ी संख्या में कई गांव के लोग नदी के किनारे लोगों की भीड़ लगी रही। लोगों ने इसकी सूचना दुबौलिया पुलिस को दी। मौके पर प्रभारी निरीक्षक इंद्र भूषण सिंह फोर्स के साथ मौके पर पहुंचकर के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

शादी के तीन माह ही उजड़ गया सिंदूर

सरयू नदी में स्नान करते समय डूबने से संदीप सिंह की मौत होने के खबर मिलते ही पूरे गांव में हड़कंप मच गया है। वही संदीप सिंह की शादी हुए तीन माह ही गुजरे कि उनकी मौत से उनकी पत्नी सुमन सिंह के मांग का सिंदूर भी उजड़ गया है। परिजनों का रो रो कर बुरा हाल है।

दो भाइयों में बड़ा था संदीप

सरयू नदी में डूबे पारा गांव निवासी संदीप सिंह अपने दो भाइयों में सबसे बड़े थे। रामधारी सिंह दो बेटे संदीप व रिंकू सिंह, नीलम सिंह, नेहा व पूनम तीन बेटियां हैं।

साभार,रोमिंग

Post a Comment

0Comments

Post a Comment (0)