अमृत योजना में भ्रष्टाचारी अफसरोंक का गोता, कार्यवाई की मैग

कौटिल्य वार्ता
By -
0

 


  
जौनपुर। 

स्वच्छ गोमती अभियान ने कलेक्ट्रेट स्थित पत्रकार भवन में पत्रकारों से बात करते हुए अध्यक्ष गौतम गुप्ता ने कहा कि स्वच्छ गोमती अभियान, नमामि गंगे व अमृत योजना में व्याप्त गंभीर तकनीकी व वित्तीय भ्रष्टाचार पर आवाज उठाते हुए जल निगम को चेताया था कि सीवर पाइप डाले जाने के दौरान उसकी ग्रेवलिग टेम्बलिग आदि मानकों के साथ खिलवा़ड़ किया जा रहा है। पाइप भी बेहद निम्न गुणवत्ता की डाली जा रही जिसे फलस्वरूप इस सीवर का आगे सफल हो पाना असंभव है। इस गंभीर मुददे पर विभाग और जिला प्रषासन ने कार्यवाही की होती तो आज ऐसे सड़कों की दुर्दषा न होती। सरकार की ष्षाख को बट्टा लगाने की नियत स ेजल निगम व गंगा यूनिट वाराणसी कार्य कर रही है। 
उन्होने कहा कि जल गिनम के अधिषासी अभियन्ता सचिन सिंह व गंगा यूनिट के प्राजेक्ट मैनेजर संजय वर्मन को पूर्व में  इन गड़बड़ियों के बारे में अवगत कराया गया था षहर में अब तक 15 स्थानों पर सीवर डाले जाने के बाद सड़के धंस चुकी है। कभी भी अनहोनी होने का खतरा बना है। जिलाधिकारी को इस योजना में व्याप्त तकनीकी व वित्तीय भ्रष्टाचार का संज्ञान ग्रहण कर आरोपी अधिकारियों के विरूद्ध कठोर कार्यवाही करे जिससे आगे विभाग व अधिकारी ईमानदारी से काम करें।

Post a Comment

0Comments

Please Select Embedded Mode To show the Comment System.*