दबंगो ने आमरास्ते पर रोपा धान, ग्रामीणों की शिकायत पर एसडीएम ने दिए केस दर्ज करने के निर्देश

कौटिल्य वार्ता
By -
0

 


* एसडीएम मिल्कीपुर ने अमानीगंज एसीओ चकबन्दी व एसओ खण्डासा को समाधान के लिए दिए निर्देश।
* ग्राम पंचायत मोहम्मदपुर की माईनर पटरी से जुड़े रास्ते में धान लगाने की शिकायत पर भड़के एसडीएम मिल्कीपुर।

मिल्कीपुर, अयोध्या।
 जिले के अमानीगंज ब्लॉक के ग्राम पंचायत मोहम्मदपुर में एक दबंग ने आम रास्ते पर अवैध कब्जा करके उसपर धान की रोपाई कर दिया है। यह आरोप लगाते हुए ग्रामीणों ने मिल्कीपुर तहसील के अधिकारियों से रास्ता खुलवाने की याचना की। लेकिन ग्रामीणों का कहना है कि दबंग सत्ता पक्ष के एक जनप्रतिनिधि का खास है। इसलिए तहसील के अधिकारी किंकर्तव्यविमूढ़ बने हुए हैं। बताया गया कि खण्डासा थाना क्षेत्र के मोहम्मदपुर गांव के माईनर पटरी से सटे रास्ते पर अतिक्रमण कर धान लगाने की शिकायत पर एसडीएम मिल्कीपुर ने सख्त रुख अपनाया है। ग्राम प्रधान राम कमल व अन्य ग्रामवासियों की शिकायत पर आम रास्ते पर धान की रोपाई करने के आरोपी हरीराम दूबे व उनकी पत्नी चंद्रावती के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कराने का निर्देश एसीओ चकबन्दी व एसओ खण्डासा को दिया है।
मोहम्मदपुर ग्राम पंचायत में गाटा संख्या 123/1766/01 कुल रकबा 10 एयर आम रास्ते के लिए चकबन्दी विभाग ने सुरक्षित किया है। इस रास्ते से दर्जनों घर के लोगों का आवागमन है। बताया गया कि गाँववासी हरीराम दूबे ने इस भूमि पर कब्जा कर रखा है।
चकबन्दी विभाग द्वारा तीन बार इसकी नाप कर निशानदेही की जा चुकी है। एसीओ चकबन्दी व एसओ खण्डासा की मौजूदगी में निशान लगाने के बाद भी इस रास्ते को खाली नहीं किया गया। ग्राम प्रधान राम कमल व ग्रामवासियों ने बीते शनिवार को तहसील दिवस में इसकी शिकायत की। आरोप है कि इसके बाद दबंग ने हरीराम दूबे ने धान की रोपाई कर लिया।तहसील दिवस की शिकायत अब भी सीओ चकबन्दी के यहाँ लम्बित है। ग्रामीणों ने ग्राम प्रधान के नेतृत्व में शुक्रवार को एसडीएम मिल्कीपुर से मिलकर आम रास्ते पर हुए अवैध कब्जे की स्थिति से अवगत कराया। ग्रामीणों का आरोप है कि चकबन्दी व पुलिस विभाग मौके तक जाता है, परन्तु सत्ताधारी दल के जन प्रतिनिधि के दबाव में कोई कार्रवाई नहीं करता है। ग्रामीणों के आक्रोश को देखते हुए एसडीएम मिल्कीपुर दिग्विजय सिंह इस मामले पर सख्त हो गए हैं।उन्होंने एसीओ चकबंदी व खण्डासा थानाध्यक्ष को आरोपियों के विरुद्ध केस दर्ज कराने का आदेश दिया है।

Post a Comment

0Comments

Post a Comment (0)