गोरखपर में 3आक्सीजन कालाबाजारियों की गिरफ्तारी,वाराणसी से एक डॉक्टर भी संलिप्त

 बस्ती/गोरखपर


अभी भी ऑक्सीजन सिलेंडर की कालाबाजारी और चोर बाजारी थमने का नाम नहीं ले रही है .उत्तर प्रदेश सरकार के इतनी सक्रियता और सजगता के बावजूद काले बाजारी  जारी है .ये अपना हाथ साफ करने और बुद्धि लगाने में नहीं चूक रहे हैं .गोरखनाथ  मंदिर के नीचे इस तरह की घटनाएं जहां मुख्यमंत्री का कार्यालय और आवास भी है बहुत गंभीर विषय है गोरखनाथ पुलिस ने एक ऐसे शख्स को गिरफ्तार किया है जो आज भी एक सिलेंडर ₹36000 में बेचता था , पुलिस ने ऑक्सीजन सिलेंडर की कालाबाजारी के आरोप में 3 लोगों को गिरफ्तार किया है .

पुलिस के अनुसार आरोपियों ने बताया कि वाराणसी का एक डॉक्टर मरीज का नाम पता बताता था और ये लोग उस मरीज को 36000 में एक सिलिंडर देते थे.

अभी बस्ती में भी असक्सीजन के कालाबाजारियों को भी धरा गया था.जानकारों का कहना है बिना डॉक्टर या स्टाफ के मिले असक्सीजन व कोविड दवाओं की कला बाजारी नही होसकती.इतनी लंबी तनख्वाह  व भगवान का दर्जा पाने के बाद भी इस तरह कर कृत्य को प्रोत्साहन  देने से नही चूक रहे.भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश कार्य समिति के सदस्य अजय सिंह गौतम ने कहा है ऐसे कालाबाजारियों, स्टाफ व डॉक्टरों पर रासुका की करवाई होनी चाहिए.

Comments