पत्रकार मनदीप की गिरफ्तारी की अनुगूँज बस्ती में भी ,भेजा राष्ट्रपति को ज्ञापन !

 


बस्ती, 01 फरवरी 
 किसान आन्दोलन में हुई हिंसा का सच उजागर करने वाले पत्रकार मनदीप पुनिया की गिरफ्तारी से आहत पत्रकारों ने अशोक श्रीवास्तव के नेतृत्व में राष्ट्रपति को सम्बोधित 4 सूत्रीय ज्ञापन जिलाधिकारी को सौंपा। भेजे गये ज्ञापन में कहा गया है कि मौजूदा सरकार देश में ऐसी परिस्थितियां पैदा कर रही है जिससे प्रेस की आजादी पर खतरा मड़रा रहा है।



पूरा तंत्र पत्रकारों पर फर्जी मुकदमे दर्ज कर उन्हे डराने का प्रयास कर रहा है। प्रेस की स्वतंत्रता छिनने से जो देश काल परिस्थितियां बनेंगी वह अत्यन्त भयावह और विनाशकारी होंगी। किसान आन्दोलन के दौरान दिल्ली पुलिस और भाजपा का गठजोड़ उजागर करने वाले पत्रकार मनदीप पर फर्जी मुकदमा दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया गया। यह प्रेस और अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता पर हमला है। इससे पहले भी अनगिनत पत्रकारों को फर्जी मुकदमे में फंसाकर समूची पत्रकारिता को डराने की कोशिशें हुई है।

ज्ञापन में पत्रकार मनदीप पुनिया की रिहाई, देशभर में पत्रकारों पर दर्ज फर्जी मुकदमे वापस लिये जाने, पत्रकार उत्पीड़न के मामलों में दोषियों पर अविलम्ब कार्यवाही किये जाने तथा पत्रकार आयोग का गठन कर पत्रकारों को सुविधायें, सुरक्षा, मकान आदि प्रदान किये जाने की मांग की गयी है। ज्ञापन सौंपने वालों में प्रमुख रूप से ग्रामीण्र पत्रकार एसोसियेशन के महामंत्री पंकज त्रिपाठी, श्रमजीवी पत्रकार यूनियन (पंजी) के जिलाध्यक्ष दिनेश प्रसाद मिश्र, राकेश गिरि, एसपी श्रीवास्तव, राजेश पाण्डेय, संतोष श्रीवास्तव, श्रवण यादव, अमृतलाल, सुबाष तिवारी, दिलीप पाण्डेय, आशुतोष पाण्डेय आदि मौजूद रहे। सभी ने पत्रकार मनदीप के गिरफ्तारी की निंदा की है।
Comments
Popular posts
ॐ नमो ब्रह्मनदेवाय गो ब्राह्मण हिताय च!
30 लाख की फिरौती के फ़ेर में छात्रा की हत्या
सरकार को कानून व्यवस्था का दंभ, अपराधियों ने किया नाक में दम! लखनऊ में 7 साल की मासूम से अगवा कर दरिंदगी; 1 आरोपी गिरफ्तार, दूसरा फरार! हाईकोर्ट के पास सरेराह चौराहे पर महिला वकील की मोबाइल छीन लुटेरा फरार छात्रों के दो गुटों में संघर्ष, एक की मौत!
Image
योगी के यूपी में दो साल में जबरन धर्मांतरण के 291 मामले दर्ज, 507 गिरफ्तार
Image
साई बाबा के पिता पिंडारी मुसलमान थे,इनका काम भारत मे लूटपाट करना था
Image