कठार जंगल गौशाला में गोपूजन,देवयज्ञ कर्मचारी सम्मान के साथ हवन,पूजन सम्पन्न

 



बस्ती 30 दिसम्बर
 आर्य समाज बस्ती द्वारा श्री गौशाला कठार जंगल बस्ती में मार्गशीर्ष पूर्णिमा के अवसर पर गौपूजन, देवयज्ञ और  कर्मचारियों का सम्मान किया गया। गौसंवर्द्धन हेतु वेद मंत्रों से आहुतियाॅ दी गयी। बस्ती विकास समिति द्वारा हरिराम सिंह, रामशंकर, मदारी, प्रमोद व चौथी को कम्बल व बिस्किट देकर सम्मानित किया। यज्ञोपरांत गौशाला न्यासी चंद्रशेखर मिश्र द्वारा विधि विधान से गौपूजन किया गया। गौग्रास खिलाते हुए उन्होंने कहा कि हम सबको गौमाता की सेवा तन मन धन से करनी चाहिए तभी हम खुशहाल होंगे। गाय के बचने से ही गाॅव व कृषि बच सकेगी। यज्ञाचार्य गरुण ध्वज पाण्डेय ने कहा कि देशी प्रजाति की गाय हमारे जीवन का आधार है। वर्तमान में देशी प्रजाति पर पूरे विश्व में शोध चल रहा है। कुछ राज्यों में इसके पालन व संवर्द्धन के लिए सरकार भी कम ब्याज दर पर ऋण उपलब्ध करवा रही है। गौसेवा से ही महाराज दिलीप को पुत्र रत्न प्राप्त हुआ था। गौसेवा से व्यक्ति निर्वैर हो जाता है जिससे आपसी भाईचारा भी बढ़ता है।

 किसानों को विभिन्न प्रकार के कृषि उपयाोग बताते हुए कहा कि गोमूत्र दूध से ढाई गुना मॅहगा है पर इसकी उपयोगिता की जानकारी न होने से हमारे किसान भाई गोवंश को अनुपयोगी समझकर बेंच दे रहे हैं जबकि केवल गोबर गोमूत्र देने वाले गोवंश कम उपयोगी नहीं हैं।
 अनूप कुमार त्रिपाठी ने कहा कि हमारा देश कृषि प्रधान है हमारे पूर्वजों ने इसका आधार गाय को माने हुए विभिन्न प्रकार के त्यौहार जैसे गोपाष्टमी, गोवर्द्धन पूजा आदि बनाकर उसकी रक्षा एवं संवर्द्धन में लीन रहते थे पर कुछ दशक पहले विदेशी षडयन्त्रों के तहत इसे अनुपयोगी सिद्ध कर दिया गया। वास्तव में गाय हमारा पालन ही नहीं करती बल्कि हमें रोगमुक्त व समृद्ध भी बनाती है। इस कार्यक्रम में रवि मिश्र (विकास) मुख्य यजमान रहे। इस वर्ष कोरोना के कारण मेले की रौनक भले कम रही पर गौपूजन कार्यक्रम में गौग्रास खिलाने में लोगों ने गौरव का अनुभव किया। 
इस अवसर पर गौप्रेमी राधेश्याम मिश्र ने बताया कि गोघृत जलाने से निकलने वाली गैसे अशुद्ध वायु को अपनी ओर खींचकर शुद्ध करती है तथा इसका गोबर और गोमूत्र रासायनिक खादों का बेहतर विकल्प है इसका उपयोग करके अधिकाधिक उत्पादन भी किया जा सकता है तथा रोगमुक्त अन्न प्राप्त किया जा सकता है। इस अवसर पर ओमप्रकाश आर्य, सुधीर कुमार अग्रवाल, विवेक गिरोत्रा, धीरज गुप्ता, आशुतोष मिश्र, राजकुमार मिश्र, प्रीती, प्रिया, जयलक्ष्मी, दीक्षा, वंदना, शुभी, शिवांगी, सत्यनारायण मिश्र, रमेश चंद्र मिश्र, आदि ने कार्यक्रम की सफलता के लिए शुभकामनाएं व्यक्त कीं। कार्यक्रम के अन्त में प्रधान न्यासी चन्द्रशेखर मिश्र ने सबके प्रति आभार व्यक्त किया।  

Comments
Popular posts
ॐ नमो ब्रह्मनदेवाय गो ब्राह्मण हिताय च!
बिना बी एस सी बीएड के 17 वर्ष की अल्पायु में शिक्षक और अब पेंशन भी जारी बस्ती शिक्षा विभाग का बड़ाखेल!
सरकार को कानून व्यवस्था का दंभ, अपराधियों ने किया नाक में दम! लखनऊ में 7 साल की मासूम से अगवा कर दरिंदगी; 1 आरोपी गिरफ्तार, दूसरा फरार! हाईकोर्ट के पास सरेराह चौराहे पर महिला वकील की मोबाइल छीन लुटेरा फरार छात्रों के दो गुटों में संघर्ष, एक की मौत!
Image
नहर में ट्रैक्टर गिरने से दो की मौत
Image
अब मुख्तार के दो बेटों पर भी 25-25हजार के इनाम घोषित!