राम मिलन चतुर्वेदी का कैंसर से अकाल निधन

 


बस्ती, वशिष्ठनगर, उत्तरप्रदेश, भारत दिसम्बर 17
 वरिष्ठ कांग्रेसी व पूर्व जिलाध्यक्ष पं0 राममिलन चतुर्वेदी का आज सुबह 8.30 बजे छत्तीसगढ़ के रायपुर में आकस्मिक निधन हो गया। कैंसर पीड़ित कांग्रेसी नेता का रायपुर के एक अस्पताल में इलाज चल रहा था। उनका पार्थिव शरीर अंतिम दर्शन के लिये शुक्रवार को कटेश्वर पार्क स्थित पार्टी दफ्तर पर दिन में 1.00 बजे लाया जायेगा।

यह जानकारी पार्टी प्रवक्ता मो. रफीक खां ने दी। उन्होने कांग्रेसजनों से अपील किया है कि वरिष्ठ कांग्रेसी नेता स्व. राममिलन चतुर्वेदी के अंतिम दर्शन के इच्छुक जन समय से पार्टी कार्यालय पहुंचे। जिलाध्यक्ष अंकुर वर्मा सहित अनेक पार्टी नेताओं ने शोक संवेदना व्यक्त करते हुये कहा राममिलन चतुर्वेदी का पूरा जीवन कांग्रेस को समर्पित रहा। वे अंतिम सांस तक कांग्रेस और पार्टी कार्यकर्ताओं के लिये समर्पित रहे।

शोक संवेदना व्यक्त करने वालों में प्रमुख रूप से पूर्व विधायक अंबिका सिंह, रामजियावन, वीरेन्द्र प्रताप नारायण पाण्डेय, छोटेलाल तिवारी, अनिरूद्ध त्रिपाठी, देवेन्द्र श्रीवास्तव, प्रेमशंकर द्विवेदी, रमेश सिंह, शीतला शुक्ला, ज्ञानेन्द्र पाण्डेय, नर्वदेश्वर शुक्ला, सुरेन्द्र मिश्रा, रामभवन शुक्ल, देवानंद पाण्डेय, कर्नल एके सिंह, प्रशान्त पाण्डेय, अनिल भारती, डा. किताबुल्लाह अंसारी, आदित्य त्रिपाठी, विश्वनाथ चौधरी, मानिकराम मिश्रा, गायत्री गुप्ता, ज्ञान प्रकाश पाण्डेय, अतीउल्लाह सिद्धीकी, गुड्डू सोनकर, अलीम अख्तर, रविन्द्र सिंह राजन, राकेश पाण्डेय, संदीप श्रीवास्तव, अमित सिंह, भूमिधर गुप्ता, मिनहाजुलहक, विनोदरानी आहूजा, नीलम विश्वकर्मा, रंजना सिंह, शकुन्तला देवी, रामधीरज चौधरी, मो. सिद्धीक, कमरूलहुदा, इफ्तेखार अहमद, फिरोज खां, सोमनाथ पाण्डेय सहित अनेक कांग्रेसी शामिल थे।

Comments