कपूर का किस्मत कनेक्शन

 कौटिल्य का भारत - वाराणसी। 

भगवान के आगे कपूर जलाने से मानते हैं कि हमारे कई वास्तु दोष दूर हो जाते हैं। इससे हमारे मन मस्तिष्क में पॉज़िटिव एनर्जी का संचार होने लगता है। कपूर में मौजूद रसायन आपके आसपास का 'औरा' यानी आभामंडल भी शुद्ध बनाते हैं। इसलिए तो है ये इतना खास! हमारी संवाददाता प्रकृति जैन द्वारा प्रसिद्ध वास्तुविद आचार्य आंजनेय से की गई बातचीत पर आधारित पढ़िए यह महत्वपूर्ण लेख - 

अपनी ऊर्जा को शुद्ध करने का वास्तु उपाय 

कई बार हमसे जाने अनजाने ऐसी ग़लतियाँ हो जाती हैं जिसका ख़ामियाज़ा हमें तमाम परेशानियों के रूप में झेलना पड़ता है। कोई बात नहीं! हम सब इंसान ही हैं ना! ग़लतियाँ सबसे होती हैं। बस इसे समझ कर सुधारना जरूरी होता है।

ऐसे में ये करें- 

किस्मत का साथ पाने के लिए नहाने के पानी में दो बूंदे कपूर के तेल की मिलाकर नहाएं। ऐसा करने से वास्तु दोष दूर होंगे। इससे आपको भगवान का आशीर्वाद भी मिलेगा। ये प्रक्रिया आपको हर शनिवार को करनी होगी।

click here to buy pure camphor soap https://rb.gy/e2nt9f 

https://www.bikayi.com/pureindia/1/4

or for more concession contact us : 8285027646 

कैम्फर या कपूर व्यापक रूप से अपने उत्कृष्ट उपचार गुणों के लिए जाना जाता है और इसका उपयोग दर्द, त्वचा की समस्याओं, मामूली जलन, सर्दी और खांसी के इलाज के लिए किया जाता है। यह वास्तु में भी विशेष महत्व रखता है, क्योंकि यह नकारात्मक ऊर्जा को दूर करने की शक्ति रखता है। यहाँ कुछ तरीकों से आप कपूर को वास्तु उपाय के रूप में उपयोग कर सकते हैं:

1. नकारात्मक और स्थिर ऊर्जा को हटाने के लिए शुद्ध या प्राकृतिक कपूर के तेल का उपयोग करें।

2. घर के फर्श को कपूर के तेल की कुछ बूंदें के साथ पानी में मिलाकर साफ करने से सकारात्मक वातावरण बनता है।

3. कर्पूर जलाने के लिए कपूर का दीपक या एक तेल निकालने वाला यंत्र दक्षिण या दक्षिण-पूर्व कोने में रखना चाहिए। यह वास्तु दोषों को दूर करने में मदद करता है।

4. समग्र समृद्धि के लिए प्रतिदिन भोर और शाम को कपूर की एक टेबलेट जलाएं।

5. अधिकतम लाभ के लिए घर के हर कोने में इसकी वाष्प और सुगंध फैलाएं।


https://www.amazon.in/PureIndia-Camphor-Therapeutic-Grade-NATURAL/dp/B08F72N453

कपूर तेल के सौंदर्य व सेहत से जुड़े लाभ 

1. कपूर के तेल को त्वचा पर लगाने से फोड़े-फुंसी और मुंहासे और उनके पुराने दाग-धब्बों को जड़ से समाप्त कर देता है। 

2. एक टब में गुनगुना गर्म पानी में कपूर तेल की कुछ बूंदें डाल दें। कुछ देर अपने पैरों को डुबोकर बैठ जाएं। इससे आपकी एड़ियां साफ हो जाएंगी और फटी एड़ियां भी जल्दी ही ठीक हो जाएंगी। यदि आपके पैरों में कोई इंफेक्शन या फंगस लगा हो, तो भी ऐसा करने से फंगस हट जाएंगे और साथ ही दर्द से भी राहत मिलेगी।

 3. कपूर का तेल बालों में लगाने से बाल जल्दी बढ़ने लगते हैं, मजबूत होते हैं और झड़ना भी रुक जाते हैं। 

4. बालों की कंडीशनिंग के लिए कपूर का तेल दही में मिलाकर बालों की जड़ों में लगाएं और आधे से 1 घंटे बाद बाल धो लें। 

 4. स्किन में यदि कोई जले या कटे का निशान हो तब भी कपूर का तेल उस हिस्से पर लगाने से निशान हल्के होते चले जाएंगे।

5. त्वचा की किसी भी प्रकार की समस्या हो, कपूर का तेल उसे समाप्त कर आपको साफ, स्वस्थ, चिकनी और बेदाग त्वचा देता है।

 6. अंदरुनी दर्द में भी कपूर का यह तेल बेहद असरदार औषधि है। शरीर के किसी भी भाग में दर्द होने पर कपूर का यह तेल हल्का गुनगुना कर उस स्थान पर मसाज करने पर दर्द से राहत मिलती है।

सबसे खास बात : तनाव कम करने के लिए कपूर का तेल प्रयोग करना फायदेमंद होता है। इसे माथे पर लगाना या फिर बालों में इसकी मसाज करना तनाव को कम करने में मददगार साबित होता है। बस इतना ध्यान देना है कि कपूर के तेल को सीधे त्वचा पर न लगा कर नारियल या जैतून के तेल में मिला कर प्रयोग करें। सरसों का तेल भी इस्तेमाल किया जा सकता है।


Comments