"सड़क मरम्मत न किए जाने का मामला पहुंचा मुख्यमंत्री के दरबार

 

"


मिल्कीपुर,अयोध्या।4 दिसम्बर 20
    मिल्कीपुर तहसील क्षेत्र स्थित तीन संपर्क मार्गों पर रिपेयरिंग एवं गड्ढा मुक्त तथा सीसी कार्य कराए जाने संबंधी अनुमानित लागत संबंधी बोर्ड व शिलान्यास किए गए पत्थर को गाड़े जाने के बावजूद भी विभाग द्वारा मौके पर सड़क मरम्मत एवं निर्माण कार्य न कराए जाने का मामला पूरी तरह से गरमा गया है। क्षेत्रीय जिला पंचायत सदस्य मामले की शिकायत प्रदेश के मुख्यमंत्री से करते हुए प्रकरण की जांच एवं सड़क मरम्मत कराए जाने की मांग की है।
हैरिंग्टनगंज से जिला पंचायत सदस्य विनय कुमार सिंह ने मुख्यमंत्री को दिए गए शिकायती प्रार्थना पत्र में आरोप लगाया है कि उनके निर्वाचन क्षेत्र की शाहगंज मुकीमपुर बाजार में सड़क का शीशी कार्य एवं रुरुखास चौराहे से पहाड़पुर उर्फ मुकीमपुर तक सड़क रिपेयरिंग गड्ढा मुक्त एवं उमरपुर बाजार को गड्ढा मुक्त रिपेयरिंग किए जाने का कार्य प्रस्तावित हुआ था। जिसके परिपेक्ष में विभागों द्वारा धन भी अवमुक्त किया जा चुका है।
 यही नहीं सबसे महत्वपूर्ण पहलू तो यह है कि संबंधित विभागों के अधिकारियों द्वारा प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एवं लोक निर्माण विभाग मंत्री केशव प्रसाद मौर्य के नाम से उल्लिखित लोकार्पण का बोर्ड भी संबंधित मार्गों पर स्थापित कर दिया, किंतु आलम यह रहा कि विभागों के विभागाध्यक्ष और अधिकृत ठेकेदार शायद कार्य कराना भूल गए। जिसका परिणाम रहा कि क्षेत्रवासी लोगों को आवागमन में अपार कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है। क्षेत्रवासी ग्रामीणों की शिकायतों के बाद जिला पंचायत सदस्य विनय कुमार सिंह ने लगभग एक माह पूर्व मार्ग के दुरुस्तीकरण के लिए की गई शिकायत के बाबत एक ज्ञापन जिलाधिकारी एवं मुख्य विकास अधिकारी को सौंप कर कार्यवाही किए जाने की गुहार करते हुए बताया था कि क्षेत्रवासी ग्रामीणों को बीमार होने की दशा में एंबुलेंस सेवाओं का लाभ भी तत्काल नहीं मिल पा रहा है। 
जिस पर मुख्य विकास अधिकारी ने रिपोर्ट भी मांग लिया था, किंतु आज तक कोई कार्यवाही ना होने के बाद क्षेत्रीय जिला पंचायत सदस्य विनय कुमार सिंह ने मामले की एक बार फिर से शिकायत लोक निर्माण विभाग के अधिशासी अभियंता निर्माण खंड 2 से करते हुए कार्यवाही की गुहार की है। जिपं सदस्य श्री सिंह ने मामले का शिकायती प्रार्थना पत्र प्रदेश के मुख्यमंत्री को भेजते हुए प्रकरण की जांच एवं सड़क निर्माण कराए जाने की मांग की है।
Comments