"जद्दोजहद के बाद पुलिस ने दर्ज की एफआईआर" * उच्चाधिकारियों के संज्ञान में आने के बाद नींद से जागी इनायतनगर पुलिस। * सीओ मिल्कीपुर ने थाने में बैठकर दर्ज कराई एफआईआर।

 


मल्कीपुर,अयोध्या,भारत,19 दिसम्बर 20
     इनायतनगर थाना क्षेत्र के अस्थना गांव में  विशेष समुदाय के दबंग लोगों द्वारा एक वृद्ध महिला एवं उसके बेटे को पीट-पीटकर लहूलुहान किए जाने के मामले में काफी जद्दोजहद के बाद आखिरकार इनायत नगर पुलिस ने घायल महिला के बेटे की तहरीर पर हमलावरों के खिलाफ मारपीट, लूट एवं जानलेवा हमले की धाराओं सहित गंभीर आपराधिक धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया है। पुलिस ने काफी फजीहतों के बाद मामले में तत्परता दिखाते हुए एक आरोपी को गिरफ्तार कर तथा उसका चालान शांतिभंग के अंदेशे में कर दिया है।
  बताते चलें कि इनायत नगर थाना क्षेत्र के अस्थना गांव निवासी एक परित्यक्ता महिला सोनपती का गांव के बाहर प्राचीन आबादी की भूमि पर बहुत पुराना कब्जा चला आ रहा है। उक्त आबादी के खाते की भूमि पर महिला का पुराना छप्पर एवं गृहस्थी के सामान रखे हुए थे। उक्त छप्पर में ही महिला गुजर बसर करती है। महिला के उक्त कब्जे वाली भूमि पर गांव के एक विशेष संप्रदाय के कुछ लोगों की नियत खराब हो गई और उन्होंने अपना कब्जा जमाना चाहा। जिसके क्रम में बीते शुक्रवार को अपराह्न करीब 3 बजे गांव के ही एक विशेष संप्रदाय के ताहिर खां व  कादिर पुत्र नासिर अपने परिवार के लोगों के साथ मौके पर पहुंच गए थे और महिला के छप्पर को गिराने लगे थे। जब वृद्ध महिला ने विरोध किया तब उक्त दबंगों ने लाठी-डंडों से महिला के सिर पर कई वार कर दिए थे। दबंगों ने पीट-पीटकर वृद्ध महिला को लहूलुहान कर दिया था। मां को बचानेेे दौड़े बेटे राजकुमार को भी हमलावरों ने जमकर पीट दिया था। ग्रामीणों के बीच बचाव के बाद वृद्ध महिला एवं उसके बेटे की जान बच सकी थी। 
 घटना के बाद पुलिस ने घायल महिला एवं बेटे को इलाज के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मिल्कीपुर पहुंचाया था। महिला की हालत गंभीर देख सीएचसी के डॉक्टरों ने उसे जिला अस्पताल रेफर कर दिया था। घटना के बाद पीड़ित ने मुकदमा कायम किए जाने हेतु इनायत नगर पुलिस को तहरीर दी थी किंतु पुलिस थाने के कुछ दलालों के प्रभाव में आकर मुकदमा कायम करने से कतरा रही थी। हमले में घायल वृद्ध महिला एक प्रतिष्ठित समाचार पत्र के प्रतिनिधि की मां भी बताई जा रही है। मामला पुलिस विभाग के उच्चाधिकारियों के संज्ञान में आने के बाद डीआईजी / एसएसपी दीपक कुमार ने भी मामले में तत्काल एफआईआर दर्ज किए जाने के निर्देश इनायतनगर पुलिस को दिए। इतना ही नहीं मामला तूल पकड़ता देख क्षेत्राधिकारी कोमल प्रसाद मिश्रा स्वयं इनायतनगर थाने पहुंचे और उन्होंने थाने में बैठकर मामले में प्राथमिकी दर्ज कराई। 
फजीहतों के बाद प्रभारी निरीक्षक विजय सेन सिंह ने घायल राजकुमार पांडे की तहरीर पर हमलावर  ताहिर एवं कादिर खिलाफ हत्या के प्रयास व लूट का केस दर्ज करते हुए मामले में एक आरोपी ताहिर को गिरफ्तार कर लिया है। हालांकि पुलिस ने पकड़े गए हमले के आरोपी ताहिर खान का  चालान मात्र शांतिभंग के अंदेशे में कर दिया है।
Comments