सर्बोच्च परीक्षा (आई ए यस) के टॉपर व्यक्तिगत जीवन की परीक्षा में फैल कैसे।बेमेल शादी का दुष्परिणाम !

 

जयपुर, राजस्थान
जल्दबाजी में फैसला आवेश का होता है,देश की सर्बोच्च परीक्षा के दो टॉपर्स एक दूजे के होगये ,फिर अब जिंदगी की परीक्षा में फेल कैसे होसकते हैं।
देशभर में इन दिनों लव जिहाद को लेकर लम्बी बहस छिड़ी हुई है, वहीं राजस्थान में भी एक एसा ही मामला सामने आया है, जिनकी शादी को पहले लव जिहाद का नाम देकर खूब बवाल मचा था और अब जब यह शादी टूटने के कगार पर है, तब भी उसे लेकर हंगामा बरपा हुआ है। हम बात कर रहे हैं साल 2015 के UPSC परीक्षा के दो टॉपर्स की.. जो की पांच साल पहले दोस्त बने, फिरे दोनों में प्यार हुआ और ढाई साल पहले शादी भी हुई, लेकिन अब यही शादी टूटने की नौबत आ गई है, क्योंकि दोनों ने फेमेली कोर्ट में तलाक के लिए आवेदन कर दिया है। आखिरकार आईएएस परीक्षा के टॉपर अपने रिश्तों के इन्तिहान में क्यों फेल हो गए? 

कभी तस्वीरों में दिखते खुशनुमा चेहर सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल होते थे। इनकी लव स्टोरी दुनियाभर में सराही गई। यूपीएससी टॉपर टीना डाबी और अतहर आमिर की कहानी में कई दिलचस्प मोड़ आए। टीना डाबी ने UPSC की परीक्षा में देश भर में प्रथम स्थान बनाया था जबकि अतहर  इसी परीक्षा में दुसरे स्थान पर रहे थे। परीक्षा तक दोनों ही एक दुसरे को नहीं जानते थे, लेकिन साल 2015 की बात है दिल्ली की रहने वाली टीना डाबी ने भारत सरकार द्वारा आयोजित एक सम्मान समारोह में अतहर आमिर खान से मुलाकात की। 
पहली नज़र में ही इन दोनों के बीच प्यार हो गया और उनका प्यार मसूरी के लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय प्रशिक्षण अकादमी में परवान चढ़ने लगा। इश्क परवान चढ़ा तो दोनों ने एक दूसरे के साथ जीने मरने की कसमें खा लीं और 20 मार्च 2018 के आते आते टीना डाबी ने अपने नाम के आगे 'खान' सरनेम जोड़ लिया। दोनों के बीच यह इश्क अब मानो आखिरी सांसें ले रहा है क्योंकि दोनों ने ही आपसी सहमती से जयपुर के फेमेली कोर्ट में तलाक के लिए आवेदन कर दिया। जानकार मानते हैं कि शुरू से ही दोनों का प्यार और विचार बेमेल थे और उसकी परिणीति अब सामने आई है। 
मामले के जानकार वरिष्ठ अधिवक्ता ए.के जैन का कहना है कि अलग अलग धर्म के होने के नाते ये शादी शुरू से ही बेमेल लग रही थी। दोनों की महत्वाकांक्षाएं भी अलग थी। लेकिन दो साल में ही इनका इस तरह से अलग होने का फैसला समझ से परे है। 
IAS टॉपर टीना डाबी और उनके पति अतहर आमिर ने 17 नवम्बर को ही अदालत में तलाक के लिए जयपुर के फैमिली कोर्ट-1 में सेक्शन 13 बी के तहत अपना प्राथना पत्र दाखिल किया है। जिसमें आपसी रजामंदी से विवाह विच्छेद का प्रावधान होता है। यह म्यूचअल तौर पर दायर अर्जी है। जिसमें कहा गया है कि वे आगे साथ नहीं रह सकते। ऐसे में कोर्ट को उनकी शादी को शून्य घोषित करना चाहिए। दोनों ही 2015 बैच के आईएएस अधिकारी हैं। वर्तमान में टीना वित्त विभाग में संयुक्त सचिव और आमिर सीईओ ईजीएस के पद पर कार्यरत हैं। 
सोशल मीडिया एकाउंट में अपने बायो में टीना डाबी ने 'खान' सरनेम जोड़कर कश्मीरी बहू का टैग जोड़ा था। लेकिन अब उन्हें इसी शब्द से मानों नफरत सी हो गयी है। टीना डाबी और अतहर आमिर खान की शादी कुछ समय पहले सवालों के घेरे में आ गई थी जब डाबी ने सोशल मीडिया पर अपने उपनाम से “खान” को हटा दिया था। 
लगभग उसी समय, अतहर ने भी टीना को इंस्टाग्राम पर अनफॉलो कर दिया था। सोशल मीडिया पर इतनी गतिविधियों के वावजूद टीना ने कुछ साफ तौर पर नहीं कहा था। इस साल उन्होंने पिछली बार की तरह अपने पति के साथ दिवाली सेलिब्रेशन की फोटो भी शेयर नहीं की थी, यही नहीं पिछले साल की दोनों की खुशियों भरी तस्वीर को भी हटा दिया था। 
जानकारों की मानें तो अब पारिवारिक कौर्ट में तलाक की अर्जी दायर होने के बाद उन्हें 6 महीने का कुलिंग पीरियड दिया गया है। मतलब इस दौरान दोनों के बीच सहमति होने पर याचिका को वापस लेने की इजाजत होगी। अगर एसा नहीं होता है तो तलक की अर्जी पर दोनों पक्षों की सुनवाई और काउंसलिंग करके डिक्री जारी होगी।
वैसे टीना डाबी और अतहर आमिर का विवाह देशभर में करीब ढाई साल पहले सुर्खियों में जिस तरह से आया था, उतनी ही तेजी से इनके रिश्तो में दरार की बाते भी सामने आई। प्रसाशनिक गलियारों में सिविल सेवा के टोपर रहे इन दोनों युवा अधिकारीयों के डार्क रहे रिश्तों की ख़बरें जब सामने आने लगी तो सरकार ने इस दंपत्ति की पोस्टिंग भी अलग अलग जिलों में कर दी। 
तभी सभी को समझ में आने लग गया था की इनके बीच सब कुछ सही नहीं चल रहा है। अब जब यहां तक नौबत आ गयी है तो दोनों को पास-पास रखते हुए एक और मौका देने के लिए राजस्थान सरकार की ओर से भी टीना डाबी को गंगानगर से जयपुर सचिवालय ट्रांसफर कर दिया गया ताकि अपने पति के साथ जयपुर में कामकाज के सिलसिले में ही सही लेकिन मेल मुलाक़ात का सिलसिला फिर से शुरू हो सके। 
हालांकि चुनावी आचार संहिता के चलते इस पर चुनाव अधिकारी ने रोक लगा दी है। फिलहाल तो आईएएस टॉपर रिश्तों में इम्तिहान में फेल होते नजर आ रहे हैं ऐसे में यही देखना होगा की इन्हें मिला 6 महीने का वक़्त क्या इनके बीच की दूरी को कम कर पाता है या फिर दोनों के रास्ते जुदा हो जाते हैं?

Comments