जमीन,दुकान पर प्रशाशन का दृष्टिकोण पक्षपात पूर्ण !

कौटिल्य वार्ता
By -
0

 


बस्ती, 16 अक्टूबर।, उत्तरप्रदेश


जमीन और दुकान से जुड़े कई मामलों में स्थानीय प्रशासन और पुलिस की भूमिका पक्षपातपूर्ण है। नतीजा ये है कि विवाद बढ़ रहे हैं और घटनायें हो रही हैं। जिससे न्याय की उम्मीद है वही पक्षपात करने लगे तो नतीजा कभी सुखद और सकारात्मक नही हो सकता है। ये बातें बस्ती उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल के जिलाध्यक्ष आनंद राजपाल ने कहीं।


वे ब्लाक रोड स्थित एक होटल में व्यापरी वीरेन्द्र चौरसिया के साथ हो रही ज़्यादती को लेकर पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। उन्होने बताया कि गांधीनगर मुख्य मार्ग पर कटेश्वरपार्क के सामने टाइल्स, मार्बल कारोबारी वीरेन्द्र चौरसिया की दुकान है। यह जमीन गाटा संख्या 204 2 बिस्वा 17 उन्होने बैनामा लिया है जो नगरपालिका में उनके व तीन भाइयों के नाम से मकान नम्बर 50,51,52 के रूप में दर्ज है। इसके ठीक पीछे गाटा संख्या 202, 203 है। इसमे से 204 वर्ग फिट कोतवाली थाना क्षेत्र के लबनापार निवासी संतोष कुमार त्रिपाठी पुत्र चन्द्रमौल त्रिपाठी ने बैनामा करा लिया लेकिन सीमायें छिपा ली गयीं।


बैनामे की जमीन को मुख्य मार्ग से सटा दिखाया गया है जबकि इस बावत की गयी शिकायतों के बाद हुई पैमाइश और मौका मुआयना में एसडीएम ने गाटा संख्या 202 और 203 की स्थिति स्पष्ट करते हुये लिखा है कि ये जमीनें मुख्य मार्ग पर नही हैं जबकि गाटा संख्या 204 जिस पर मार्बल कारोबारी का कब्जा है मुख्य मार्ग पर ही स्थित है। इस मामले में 07 अक्टूबर को दिये आदेश में उप जिलाधिकारी आशाराम वर्मा ने आरोपी संतोष कुमार त्रिपाठी के विरूद्ध सुसंगत धाराओं में एफआईआर दर्ज करने का आदेश दिया है। लेकिन एक सप्ताह बीत जाने के बाद भी कोतवाली पुलिस ने मामले में कोई रूचि नही ली। जबकि आरोपी ने कुछ लोगों के साथ मकान व दुकान का कुछ हिस्सा 28 अगस्त को जबरिया गिरा दिया था।


Post a Comment

0Comments

Please Select Embedded Mode To show the Comment System.*