दुःसाहस ,छुट्टी न मिलने पर सिपाही ने दरोगा सहित खुद को गोली मारी,निलंबित !

मनोज श्रीवास्तव/लखनऊ।


बदायूं जिले में छुट्टी को लेकर उझानी कोतवाली में एसएसआई समेत खुद को गोली मारकर घायल करने के आरोपी सिपाही को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। पुलिस हिरासत में ही चार सितंबर से उसका बरेली के निजी अस्पताल में इलाज चल रहा था। बुधवार को एसएसपी संकल्प शर्मा ने उसे बुधवार को निलंबित कर कोर्ट में पेश करने के आदेश दिया था। बुधवार को पुलिस उसे अस्पताल से डिस्चार्ज कराकर बदायूं ले आई।यहां जिला अस्पताल में मेडिकल कराने के बाद उसे कोर्ट में पेश किया।


सिपाही ने अपने अधिवक्ता के माध्यम से अदालत में खुद की हालत गंभीर होने की अर्जी दी। जेल प्रशासन ने उसका मेडिकल कराया और बाद में उसे पुलिस अभिरक्षा में जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मूल रूप से गांव नगला गुलड़िया थाना जंक्शन, हाथरस निवासी सिपाही ललित कुमार उझानी कोतवाली में तैनात था।चार सितंबर को छुट्टी देने को लेकर उसका एसएसआई रामौतार से विवाद हो गया था। इस पर सिपाही ने सर्विस इंसास से हवाई फायर करने के बाद एसएसआई को गोली मारी और उसके बाद खुद को भी गोली मारकर आत्महत्या की कोशिश की। दोनों को जिला अस्पताल से बरेली रेफर किया गया। वहीं कोतवाली के मुंशी की ओर से सिपाही के खिलाफ घटना का मुकदमा कायम कर लिया गया था।


पुलिस हिरासत में ही दोनों का इलाज चल रहा था। हालत में सुधार होने पर बुधवार को उसकी गिरफ्तारी कर ली गई। उसे कड़ी निगरानी में बदायूं लाया गया। अदालत में पेश होने पर सिपाही की ओर से भी प्रार्थना पत्र दिया गया तो कोर्ट ने जेल प्रशासन को उसका मेडिकल कराने का आदेश दिया।जेल में चिकित्सकीय परीक्षण में उसकी हालत गंभीर निकली। सिपाही को जेल लाया गया था। जहां उसका डाक्टरी मुआयना किया गया। डाक्टरों ने उसकी हालत ठीक नहीं होना बताया। जिसके बाद सिपाही का पुलिस अभिरक्षा में  जिला अस्पताल में भर्ती कराया है।


Comments