श्री राममंदिर के उद्घाटन के सापेक्ष कमिश्नर ने विशेष सतर्कता के दिए प्रशासन को निर्देश,,आमंत्रित ही जासकेंगे

कौटिल्य वार्ता
By -
0

बस्ती 22 दिसम्बर

 जनवरी को अयोध्या में राम मंदिर के उद्घाटन कार्यक्रम को देखते हुए जिले में सतर्कता बरतने के लिए मण्डलायुक्त अखिलेश सिंह ने सभी जिलाधिकारी तथा पुलिस अधीक्षक को निर्देशित किया है। सभागार में आयोजित कानून व्यवस्था की समीक्षा बैठक में उन्होने निर्देश दिया कि सभी होटल, धर्मशाला, रेस्टहाउस, गेस्टहाउस की नियमित जॉच करें। नये किरायेदारों के बारे में जानकारी जुटाई जाय। उन्होने निर्देश दिया कि जनपद के सभी होटल, धर्मशाला, रेस्टहाउस, गेस्टहाउस के संचालको के साथ एक बैठक कर ली जाय। सुनिश्चित किया जाय कि कोई भी व्यक्ति वहॉ पर बिना पहचान पत्र के ना रूके। संदिग्ध व्यक्ति के संबंध में संचालको को तत्काल स्थानीय पुलिस को सूचना देनी होंगी।
        उन्होने कहा कि 22 जनवरी को अयोध्या में आमंत्रित व्यक्तियों को ही जाना है, इसलिए लोगों को प्रेरित करें कि वे इस दौरान अयोध्या जाने से बचें। उन्होने कहा कि सभी नगरपालिका एवं नगरपंचायतों में अवैध ढंग से लगी होर्डिंग को तत्काल हटाया जाय। नगरनिकाय स्थान निर्धारित करे तथा शुल्क लेकर होर्डिंग लगाने की अनुमति देंगे। इसके लिए यह सुनिश्चित किया जायेंगा कि लगायी गयी होर्डिंग आवागमन में बाधक ना हों।    

 की अनुमति देंगे। इसके लिए यह सुनिश्चित किया जायेंगा कि लगायी गयी होर्डिंग आवागमन में बाधक ना हों।    

आईजी आर.के. भारद्वाज ने निर्देश दिया कि नेपाल बार्डर की चेकिंग बढायी जाय। प्रत्येक छोटी से छोटी घटना के संबंध में तत्काल प्रभावी कार्यवाही करते हुए निस्तारण कराया जाय। किसी भी घटना के होने पर वरिष्ठ अधिकारी घटना स्थल का निरीक्षण करें। धार्मिक स्थलों पर भी निवास करने वाले व्यक्तियांें के बारे में जानकारी जुटायी जाय। उन्होने निर्देश दिया कि अवैध रूप से संचालित टैक्सी स्टैण्ड बन्द कराये जाय। टैक्सी स्टैण्ड के लिए स्थान निर्धारित करते हुए आवश्यक सुविधाए उपलब्ध करायी जाय।
मण्डलायुक्त ने कर-करेत्तर एवं राजस्व कार्यो की समीक्षा करते हुए निर्देश दिया है कि विभाग अगले तीन माह की कार्ययोजना बनाकर कार्य करें ताकि शतप्रतिशत राजस्व प्राप्ति का लक्ष्य हासिल किया जा सकें। उन्होने निर्देश दिया कि आवास, कुम्हारीकला, वृक्षारोपण, पट्टा आवंटन का शतप्रतिशत लक्ष्य हासिल करें। पॉच वर्ष से अधिक के राजस्व वादों के निस्तारण में तेजी लायें। अमलदरामद समय से सुनिश्चित करें। तैयार घरौनी का वितरण कराये।

चेकिंग बढायी जाय। प्रत्येक छोटी से छोटी घटना के संबंध में तत्काल प्रभावी कार्यवाही करते हुए निस्तारण कराया जाय। किसी भी घटना के होने पर वरिष्ठ अधिकारी घटना स्थल का निरीक्षण करें। धार्मिक स्थलों पर भी निवास करने वाले व्यक्तियांें के बारे में जानकारी जुटायी जाय। उन्होने निर्देश दिया कि अवैध रूप से संचालित टैक्सी स्टैण्ड बन्द कराये जाय। टैक्सी स्टैण्ड के लिए स्थान निर्धारित करते हुए आवश्यक सुविधाए उपलब्ध करायी जाय।

मण्डलायुक्त ने कर-करेत्तर एवं राजस्व कार्यो की समीक्षा करते हुए निर्देश दिया है कि विभाग अगले तीन माह की कार्ययोजना बनाकर कार्य करें ताकि शतप्रतिशत राजस्व प्राप्ति का लक्ष्य हासिल किया जा सकें। उन्होने निर्देश दिया कि आवास, कुम्हारीकला, वृक्षारोपण, पट्टा आवंटन का शतप्रतिशत लक्ष्य हासिल करें। पॉच वर्ष से अधिक के राजस्व वादों के निस्तारण में तेजी लायें। अमलदरामद समय से सुनिश्चित करें। तैयार घरौनी का वितरण कराये।

Post a Comment

0Comments

Please Select Embedded Mode To show the Comment System.*