रिगरोड परियोजना का हालत जाना कलक्टर बस्ती ने.

कौटिल्य वार्ता
By -
0

 


बस्ती 12 सितम्बर 

, जिलाधिकारी अंद्रा वामसी ने कैम्प कार्यालय में बस्ती रिंग रोड परियोजना, चौरासी कोसी परिक्रमा मार्ग, एन.एच.-227ए (रामजानकी मार्ग बस्ती), अयोध्या रिंग रोड एन.एच.-328 परियोजना के अन्तर्गत भूअर्जन की कार्यवाही के संबंध में बैठक की। बैठक में उन्होने कहा कि जिन किसानों का परियोजना के लिए भूमि अधिग्रहण किया गया है, उन किसानों का मुआवजा तत्काल देने की कार्यवाही की जाय। उन्होने उप जिलाधिकारी रमेश यादव को निर्देश दिया है कि इस कार्य को शीघ्रातिशीघ्र पूर्ण कराते हुए अवगत करायें। उन्होने उप जिलाधिकारी रमेश यादव को निर्देश दिया है कि हिस्साकसी, जमीन अधिग्रहण, भुगतान संबंधी प्रकरण किसी भी स्तर पर लम्बित नही रहना चाहिए। इस प्रकार के प्रकरण तहसील हर्रैया में पेन्डिंग है। संबंधित प्रकरण इस माह के अन्त तक निस्तारित करना सुनिश्चित करें।  
        बैठक में एन.एच.आई. के अधिकारियों द्वारा बताया गया कि बस्ती रिंग रोड की दूरी लगभग 22 किमी. है, जिसके लिए प्रभावित ग्रामों की संख्या 54 और 3डी ग्रामों की संख्या 53 है। कुल प्रभावित/अर्जित रकबा 102.846 हेक्टेयर है। चौरासी कोसी परिक्रमा मार्ग की दूरी 29 किमी. है, इसके सापेक्ष प्रभावित ग्रामों की संख्या 54 और 3डी ग्रामों की संख्या 54 है। कुल प्रभावित/अर्जित रकबा 152.191 हेक्टेयर है। इस परियोजना के अवशेष कार्य को जिलाधिकारी ने संबंधित अधिकारियों को नवम्बर माह तक पूर्ण कराये जाने का निर्देश दिया है।
       जिलाधिकारी ने अयोध्या रिंग रोड, रामजानकी मार्ग एन.एच.-227ए, एन.एच.-328 की समीक्षा करते हुए अधिकारियों को परियोजना को शीघ्र पूरा कराये जाने के लिए निर्देशित किया। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी डा. राजेश कुमार प्रजापति, अपर जिलाधिकारी कमलेश चन्द्र, मुख्य राजस्व अधिकारी ज्ञान प्रकाश त्रिपाठी, एसडीएम सदर विनोद पाण्डेय, अधिशासी अभियन्ता एन.एच. पीडब्ल्यूडी, डीजीएम एन.एच.आई. तथा विभागीय अधिकारी उपस्थित रहें।    

Post a Comment

0Comments

Post a Comment (0)