कामरेडों का राष्ट्रव्यापी धरना एवम् प्रदर्शन

कौटिल्य वार्ता
By -
0

 सिदार्थ नगर। 09 अगस्त।


 केंद्रीय ट्रेड यूनियनों के केंद्रीय फेडरेशन के श्रमिक,कर्मचारी,किसान हितो की मांग को लेकर दो दिवसीय राष्ट्र व्यापी धरना प्रदर्शन के आवाहन के क्रम में सीटू से सम्बद्ध मिड डे मील रसोइया कर्मचारी यूनियन ने जिलाधिकारी कार्यालय पर के के तिवारी व माकपा नेता श्याम लाल शर्मा के नेतृत्व में धरना देते हुए प्रशासन के माध्यम से राष्ट्रपति व मुख्यमंत्री को ज्ञापन प्रेषित किया।

 आंदोलन का आरंभ सीटू से सम्बद्ध यूपी एमएस आर ए ने न्यायमार्ग स्थित कार्यालय से जुलूस निकाल कर जिलाधिकारी कार्यालय पर पहुंच उपजिलाधिकारी को ज्ञापन दिया। तत्पश्यात उप श्रमायुक्त कार्यालय परिसर (विकास भवन) प्रांगण में रसोइया यूनियन के धरने में शामिल हुए ।धरने को संबोधित करते हुए एमडीएम नेता ध्रुव चंद ने कहा कि केंद्र की भजपा सरकार द्वारा श्रम कानूनों में संसोधन कर चार श्रम कोड में बदलना श्रमिक विरोधी कदम है इसे और तीनों कृषि कानूनों को रद्द किया जाय। पुरानी पेंशन बहाली ,रसोइया सहित अन्य योजना श्रमिको को 26000/- न्यूनतम वेतन देने ,रिटायरमेंट पर पेंशन सहित अन्य श्रमिक हित लाभ दिए जाने ,चंद्रावती केस में हाईकोर्ट के निर्णय को लागू करने,पाल्य व नवीनीकरण की व्यवस्था समाप्त किये जाने।बाह्य संविदा समाप्त करते हुए संविदा कर्मियों को खाली पदों पर समायोजित करने की मांगे शामिल है।
माकपा नेता कामरेड श्यामलाल ने कहा कि अपने सवालों पर देश भर में श्रमिक,खेतमज़दूर व किसान आंदोलित है और आपस मे संगठित हो रहे है।हरियाणा के नुह्न में भजपाइयो ,संघ द्वारा प्रायोजित राज्य द्वारा समर्थित साम्प्रदायिक सद्भाव बिगाड़ने की साज़िश को विफल करने में किसानों,मजदूरों की एकता का ही योगदान है। केन्द्व प्रदेश की सरकार को किसानों ,मजदूरों खेत मजदूरों की मांगों को मानना ही होगा।।
धरने को रंजीत श्रीवास्तव ,माकपा के जिला मंत्री राम गढ़ी चौधरी,रामनिरख,विशाला,अनिता,गुड़िया,कंचन,दुलारी,पुष्पा,मीणा,राम कुशल ,रीता सिंह,उर्मिला,पुनिता,शकुंतला,दुर्गावती,जानकी,ममता,रिणा वर्मा मीणा पांडेय,अनाड़ी,बाबूलाल,राजकुमार प्रभावती शामिल रहे।

Post a Comment

0Comments

Please Select Embedded Mode To show the Comment System.*