आसमानी आफत से कैसे निपटेंगे बच्चे,अभिभावक और शिक्षक बस्ती की प्राथमिक शिक्षा

कौटिल्य वार्ता
By -
0

 बस्ती

आसमान से बरस रहे आग के गोलो  के बीच बस्ती जनपद में एक विशेष प्रकार का आदेश बेसिक शिक्षा अधिकारी बस्ती ने जारी किया है ।सामान्यतया प्रातः काल 8:00 से 2:00 तक कक्षा 8 तक के विद्यालयों को खोलने के निर्देश  थे ,परंतु हद हद तब हो गई जब बस्ती के बेसिक शिक्षा अधिकारी ने आदेश में संशोधन करते हुए प्रात:7  से 1:00 बजे दोपहर तक विद्यालय खोलने का आदेश दे दिया।

 कल्पना किया जा सकता है 1:00 बजे दोपहर और 2:00 बजे दोपहर में क्या अंतर हो सकता है ।दोनों में चिलचिलाती हुई धूप  शिशुओं और बच्चों के कुंभलाते हुए चेहरे और अभिभावकों के झेलते हुए संत्रास को भी बेसिक शिक्षा अधिकारी ने अनदेखा करते हुए निर्णय दे दिया क़ि जिसके बारे में सर्वत्र उसके विवेक हीनता की चर्चा हो रही है ।विवेक हीनता इसलिए कि 7 से 11 या अधिकतम 12:00 बजे तक  विद्यालय खोला जाता तो कुछ राहत रहती 40 से ऊपर का तापमान 12:00 से 3:00 बजे तक रहता है ऐसे समय में बच्चे शिक्षक और अभिभावक आसमान से बरस रहे आज के गोलों से कैसे निपतेगे कौन बताएगा ?

 बताते हैं कि इस तरह के तुगलकी निर्णय के प्रति लोगों के मन में आक्रोश व्याप्त है इससे अच्छा था यह था, दो ही बजे विद्यालय छोड़ता लेकिन बच्चे शिक्षक और अभिभावक इस व्यवस्था से नई  मुसीबत  झेलेंगे इससे यही होरहा ये न इधर  के रहे ना उधर के रहे और इस निर्णय की सर्वत्र निंदा हो रही है ।

Post a Comment

0Comments

Please Select Embedded Mode To show the Comment System.*