जिला सहकारी बैंक बस्ती ने की ऐतिहासिक पहल,दुर्गा पाठ, सुंदरकांड पाठ के साथ सबका साथ,सबका विकास और सबके विश्वाश पर बल

कौटिल्य वार्ता
By -
0

बस्ती 1856 में बस्ती जनपद अस्तित्व में आया ,इसके पहले यह गोरखपुर का एक हिस्सा था ,भारतीय जनता पार्टी की सरकार केंद्र में नरेंद्र मोदी और उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ की पहल पर हिंद महासागर से हिमालय तक कश्मीर से कन्याकुमारी तक समग्र सांस्कृतिक राष्ट्रवाद की बयार बह रही है ।यह बयान भारतीय पुनर्जागरण की भी है ,यह बयार सामाजिक समरसता और सामाजिक न्याय की भी है ,यह बयार देश में राष्ट्रवाद की अलख जगाने की है ,और यह  बयार समाज की दशा और दिशा तय करने वाले उस बहुसंख्यक समुदाय के लिए एक जागृत स्रोत के लिए भी है ,जो आज देश में मजबूत सरकार देने में सक्षम है।


 उसी सरकार की मजबूती के लिए सामाजिक स्तर पर अनेक प्रयास किए जा रहे हैं उसमें से एक प्रयास यह भी है कि देश में खोए हुए मूल्यों को पुनर्स्थापित करने के लिए सांस्कृतिक राष्ट्रवाद की अवधारणा को पुष्ट करने के लिए देश को हिंदू राष्ट्र के लिए माहौल बनाने के लिए एक बहुत बड़े फलक पर बड़ा अभियान का संचालन चल रहा है ।वह अभियान है इस देश की अस्मिता की रक्षा का इस देश के युवाओं को बलवान बनाने का ,तुम मुझे खून दो मैं तुझे आजादी दूंगा के नारे को चरितार्थ करने वाले सुभाष चंद्र बोस की संतानों का ,इंकलाब जिंदाबाद की परिणति देने वाले भगत सिंह ,राजगुरु और सुखदेव का स्वतंत्रता हमारा जन्मसिद्ध अधिकार है ऐसा कहने वाले लोकमान्य बाल गंगाधर तिलक का और भारत हिंदू राष्ट्र है इस बात की परिकल्पना देने वाले महर्षि अरविंद और वीर सावरकर का ।


उसीकी  पहल में आज बस्ती जनपद में जिला सहकारी बैंक लिमिटेड बस्ती में सांस्कृतिक नवजागरण की अवधारणा को पुष्ट करने के लिए जिला सहकारी बैंक के चेयरमैन की पहल पर एक समग्र अनुशासित अभियान का श्री गणेश किया गया है ।यह अभियान है वासन्तिक नवरात्रि में शक्ति स्वरूपा मां दुर्गा के द्वितीय द्वितीयम् ब्रह्मचारिणी  के दिन बैंक में श्री दुर्गा सप्तशती का पाठ और रामचरितमानस के उपांग श्री सुंदरकांड का पाठ के साथ हवन ,किर्तन और आरती का कार्यक्रम आयोजित हुआ ।कार्यक्रम के आचार्य देवस्य मिश्र ने कहा हमारी अस्मिता हमारी संस्कृति को बचाने के लिए वसंतिक नवरात्रि का बड़ा महत्व है ,।

इसीलिए हम भारत को वैश्विक शक्ति बनाने के लिए मां दुर्गा जो रविंद्र नाथ टैगोर और बंकिम चंद्र चट्टोपाध्याय के  दुर्गा  दस प्रहहरण धारणी के मूल मंत्र देती हैं ।यही दुर्गा वसुधैव कुटुंबकम की भावना से संपूर्ण समाज को सत्य संपन्न, समृद्धि संपन्न बनाकर हमारे शरीर और देश दोनों को मजबूत कर  में किसी सरकारी विभाग में इस तरह का आयोजन अनूठा है।

 जहां वाणी और संस्कृति पर पहरा था वहां आज स्वच्छंद होकर बसंत के मस्त माहौल में हम भारत के सुखी और यसस्वी व् कॉलजयी जीवन की कामना कर रहे हैं ।आज जिला सहकारी बैंक में चेयरमैन राजेंद्र नाथ तिवारी ने एक प्रेरणा परक कार्यक्रम आयोजित कर सबको सन्मति देने के लिए मां दुर्गा और प्रभु राम से प्रार्थना की। इस अवसर पर बड़े पैमाने पर फलाहार का भी आयोजन किया गया ।जिसमें पत्रकार, अधिवक्ता ,सहकारी बंधु तथा अन्य स्वनामधन्य  हस्तियों ने भाग लिया  

इस अवसर परप्राथमिक शिक्षक संघ के उदय शंकर शुक्ल,हरीश सिंह,सूर्य प्रकाश शुक्ल के अतिरिक्त बैंक के सचिव श्री प्रेम प्रकाश गौतम ,वरिष्ठ प्रबंधक श्री रत्नेश पाल, श्री अमित यादव श्री रवि सिंह के साथ ही संचालक मंडल के सदस्य श्री हमीर पाल श्री रत्नेश पाल श्री शत्रुघ्न पाल श्री वीरेंद्र प्रताप सिंह श्री सुनील यादव श्री अजय पांडे तथा राम शंकर यादव आदि ने भाग लिया इस अवसर पर बड़ी संख्या में लोगों ने प्रसाद वितरण में भाग लिया और जिला सहकारी बैंक में इस तरह के कार्यक्रम के ऐतिहासिक स्वरूप की सराहना किया और संचालक मंडल ने इस तरह के कार्यक्रमों को करते रहें राष्ट्रीय जागरूकता के लिए पहल करने तथा सांस्कृतिक राष्ट्रवाद की अवधारणा को पुष्ट करने के लिए काम करते रहने का आवाहन भी किया।

जिनकी उपस्थिति रही उनमे विनय उपाध्याय, सुबास शुक्ल,प्रदीप पाण्डेय,महादेव दुबे,विषयु दुबे,अवनीश पाण्डेय,विश्व नाथ पाण्डेय प्रमुख है

Post a Comment

0Comments

Please Select Embedded Mode To show the Comment System.*