लखनऊ में 4 लड़कों ने पुलिसकर्मी की बीच सड़क पर पिटाई, भागकर दीवान ने बचाई जान गाजियाबाद में राष्ट्रीय खिलाड़ी की ईंट मार कर हत्या!

कौटिल्य वार्ता
By -
0

 योगी के कानून राज की उड़ रही धज्जियां

लखनऊ में 4 लड़कों ने पुलिसकर्मी की बीच सड़क पर पिटाई, भागकर दीवान ने बचाई जान

गाजियाबाद में राष्ट्रीय खिलाड़ी की ईंट मार कर हत्या!

मनोज श्रीवास्तव/लखनऊ।


 उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में बीच सड़क पर चार लड़कों ने पुलिसकर्मी को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा है। घटना बुधवार रात पारा की है। इसका वीडियो शनिवार को सामने आया है। वीडियो में दिख रहा है कि तीन लड़के पुलिसकर्मी को बीच सड़क पीट रहे हैं। उनमें से एक युवक उसका मोबाइल भी उठाकर सड़क पर पटक देता है। बमुश्किल पुलिसवाले ने भागकर अपनी जान बचाई। वहां मौजूद किसी व्यक्ति ने इसका वीडियो बना लिया था, जो कि तीन दिन बाद सामने आया।वीडियो में हरी टी-शर्ट में नजर आया युवक दुकानदार है, जिसने दीवान को बचाया।


घटना पारा थाना क्षेत्र के सरोसा-भरोसा मोड़ की है। बुधवार रात को एक बाइक पर चार लड़के शोर मचाते जा रहे थे। दीवान श्रीकांत गश्त कर रहे थे। दीवान ने उन्हें हाथ देकर रोका, तो युवक अभद्रता करने लगे। फिर दीवान को सड़क पर दौड़ा-दौड़ाकर पी​टा। इस बीच सड़क के दूसरी तरफ खड़ा युवक दौड़कर आया और बीच-बचाव किया। कुछ देर बाद वह चारों लड़के वहां से चले गए। इसके बाद, दीवान ने थाने जाकर एफआईआर दर्ज कराई। पुलिस ने दीवान की तहरीर पर मुकदमा दर्ज किया है। एसीपी काकोरी अनिध्य विक्रम सिंह ने बताया,"दीवान श्रीकांत की तरफ से दी गई तहरीर के आधार पर मारपीट, सरकारी काम मे बाधा डालन समेत अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।"पिटाई से बचने के लिए दीवान को भागना पड़ा। मगर लड़कों ने उनका पीछा नहीं छोड़ा।प्रभारी निरीक्षक पारा दधिबल तिवारी ने बताया, "वीडियो वायरल होने के बाद युवकों की तलाश के लिए टीम लगा दी गई थी। उनमें से एक युवक सलेमपुर पतौरा निवासी अनिल के रूप में पहचान हो गई है। उसकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस की टीम लगी हुई है। इसके साथ अन्य की तलाश की जा रही है। पुलिस ने एक युवक को हिरासत में ले लिया है। पूछताछ की जा रही है।


दूसरा मामला गाजियाबाद का है।जहां साहिबाबाद में लोनी-भोपुरा रोड पर बिहारी ढाबे के सामने सड़क पर कार पार्किंग के विवाद में राष्ट्रीय कुश्ती खिलाड़ी और सेवानिवृत्त दरोगा के बेटे अरुण उर्फ वरुण (33) की ईंट मारकर हत्या कर दी गई। बात सिर्फ इतनी सी थी कि अरुण ने उनकी कार के बराबर में खड़ी कार को हटाने के लिए कहा था। इसी पर आरोपी भड़क गया और दोस्तों के साथ मिलकर उसके साथ हाथापाई करने लगे। उसके बाद आरोपियों ने उसे जमीन पर गिरा दिया और दम निकलने तक सिर पर ईंट से प्रहार करते रहे। इस दौरान कुछ राहगीर वीडियो बनाते रहे, लेकिन अरुण को बचाने के लिए आगे नहीं आये। अरुण के साथ दो दोस्त भी थे, लेकिन वे भी तमाशबीन ही बने रहे। अरुण के पिता सेवानिवृत्त दरोगा कंवरपाल ने संजय, दीपक और अन्य के खिलाफ हत्या का केस दर्ज कराया है।

Post a Comment

0Comments

Please Select Embedded Mode To show the Comment System.*