भूमि विवादो को निपटान नवागत कलक्टर की प्रथम वरीयता

 


बस्ती 10 जून 
जिलाधिकारी श्रीमती प्रियंका निरंजन ने भूमि विवादों के स्थायी समाधान के लिए जिले स्तर पर एस.आई.टी. गठित करने का निर्देश दिया है। एस.आई.टी. में एक डिप्टी कलेक्टर, एक तहसीलदार, नायब तहसीलदार, कानूनगो, कम से कम दो लेखपाल तथा सिपाही शामिल होंगे। प्रकरण की गम्भीरता को देखते हुए टीम संबंधित थाने से आवश्यक फोर्स लेकर मौके पर जायेंगी। उन्होने निर्देश दिया है कि एस.आई.टी. शिकायती प्रकरण के अलावा भी गॉव में अन्य भूमि विवादों की सुनवायी करेंगी तथा उसका निस्तारण करेंगी। यदि प्रकरण को लम्बित रखने में राजस्व कर्मी की भूमिका पायी जायेंगी तो कठोर कार्यवाही की जायेंगी। एस.आई.टी. इस संबंध में भी रिपोर्ट देंगी।  
उन्होने सभी उप जिलाधिकारियों को निर्देशित किया है कि वे लेखपालों से उनके क्षेत्र में अवैध अतिक्रमणमुक्त होने का प्रमाण पत्र प्राप्त करेंगे। यदि अवैध अतिक्रमण हो, तो लेखपाल उसकी सूची तैयार करेंगे और फोर्स ले जाकर समयबद्धचरण में अवैध अतिक्रमण हटायेंगे। प्रमाण पत्र देने के बाद यदि अवैध अतिक्रमण पाया जाता है, तो संबंधित लेखपाल के विरूद्ध कार्यवाही की जायेंगी।  
        कार्यकाल के पहले दिन लगभग ढाई घण्टे कलेक्टेªट में जन सुनवायी करते हुए उन्होने पाया कि कई तहसीलों में भूमि विवाद के गम्भीर प्रकरण अनिस्तारित पड़े है, जिससे कभी भी कानून व्यवस्था की स्थिति बिगड़ सकती है। सुनवायी के दौरान आये भूमि विवाद के प्रकरणों में उन्होने सीधे संबंधित उप जिलाधिकारी से वार्ता कर मौके पर जाने एवं विवाद का निस्तारण कराने का निर्देश दिया। एक प्रकरण में उन्होने सीआरओ नीता यादव तथा दो-दो प्रकरण में डिप्टी कलेक्टर आनन्द श्रीनेत तथा डिप्टी कलेक्टर प्रोबेशनर सुधांशू को देते हुए आज ही जॉच कर रिपोर्ट देने का निर्देश दिया।
        जनसुनवायी के दौरान उन्होने होम लोन के लिए दो दिन से धरने पर बैठी उर्मिला के प्रकरण का भी निस्तारण किया। उन्होने लीड बैंक मैनेजर अविनाश चन्द्रा को बुलाकर उसके प्रपत्रों का परीक्षण कर नियमानुसार होम लोन दिलाने की कार्यवाही का निर्देश दिया। उल्लेखनीय है कि उर्मिला होम लोन के लिए पिछले छः माह से परेशान थी।
       इस दौरान उप संचालक चकबन्दी उमेश गिरी, बन्दोबश्त अधिकारी चकबन्दी अनिल कुमार राय, अधिशासी अभियन्ता पीडब्ल्यूडी शुभ नारायण, ए.एम.ए. जिला पंचायत विकास मिश्रा, स्पोर्टस अफसर संजय शर्मा, खाद्य सुरक्षा अधिकारी अपूर्व श्रीवास्तव, सीमा वर्मा, विभिन्न राजनैतिक दलों के प्रतिनिधि, गणमान्य नागरिक, समाजसेवी ने जिलाधिकारी से मिलकर बुके प्रदान करते हुए उनका स्वागत किया। उन्होने अधिकारियों को निर्देशित किया कि नियमित रूप से दफतर में बैठे और शासन द्वारा निर्धारित लक्ष्यों को समय से पूरा करें।
       कानून व्यवस्था के दृष्टिगत जिलाधिकारी श्रीमती प्रियंका निरंजन, पुलिस अधीक्षक आशीष श्रीवास्तव ने गॉधीनगर, दरियाखॉ, दक्षिण दरवाजा तथा अन्य मुहल्लो का भ्रमण किया। शान्ति व्यवस्था बनाये रखने के लिए यहॉ पर पहले से ही एडीएम अभय कुमार मिश्र, एएसपी दीपेन्द्र नाथ चौधरी, सीओ आलोक प्रसाद, एलआईयू स्पेक्टर आलोक कुमार, कोतवाल संजय कुमार मयफोर्स के क्षेत्र में तैनात रहें।
        इस क्रम में जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक दरियाखॉ मस्जिद गये तथा वहॉ मौलवी से विचार-विमर्श किया। उन्होने पूर्ण सहयोग का आश्वासन दिया। इसके पश्चात् दोनों अधिकारी फोर्स के साथ दक्षिण दरवाजा पुलिस चौकी से मंगल बाजार होते हुए रेलवे स्टेशन तक गये। जगह-जगह पर उन्होने लोगों से वार्ता किया तथा कानून व्यवस्था बनाये रखने मंे सहयोग की अपेक्षा किया।    
------------
Comments
Popular posts
ॐ नमो ब्रह्मनदेवाय गो ब्राह्मण हिताय च!
30 लाख की फिरौती के फ़ेर में छात्रा की हत्या
सरकार को कानून व्यवस्था का दंभ, अपराधियों ने किया नाक में दम! लखनऊ में 7 साल की मासूम से अगवा कर दरिंदगी; 1 आरोपी गिरफ्तार, दूसरा फरार! हाईकोर्ट के पास सरेराह चौराहे पर महिला वकील की मोबाइल छीन लुटेरा फरार छात्रों के दो गुटों में संघर्ष, एक की मौत!
Image
योगी के यूपी में दो साल में जबरन धर्मांतरण के 291 मामले दर्ज, 507 गिरफ्तार
Image
साई बाबा के पिता पिंडारी मुसलमान थे,इनका काम भारत मे लूटपाट करना था
Image