अक्टूबर या नवमंबर के पहले हप्ते में आ सकती है कोरोना की तीसरी लहर-प्रोफेसर मनिंद्र अग्रवाल

कौटिल्य वार्ता
By -
0



मनोज श्रीवास्तव/लखनऊ। 

कोरोना की तीसरी लहर को लेकर आईआईटी कानपुर के प्रोफेसर ने नया दावा करते हुए कहा है कि संक्रमण की तीसरी लहर इसी साल के अक्टूबर के अंत अथवा नवंबर माह के शुरुआती हफ्ते में आ सकती है। इसमें वैक्सीन ना लगवाने वाले 35 प्रतिशत लोगों को ज्यादा खतरा है।



मंगलवार को आईआईटी कानपुर के प्रोफेसर मनिंद्र अग्रवाल ने कोरोना वायरस की तीसरी लहर को लेकर एक नया दावा किया है। उन्होंने बताया है कि कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर इसी साल के अक्टूबर अथवा नवंबर माह के शुरुआती हफ्ते के भीतर आ सकती है। तीसरी लहर में कोरोना से बचाव की वैक्सीन ना लगवाने वाले 35 प्रतिशत लोगों को ज्यादा खतरा है।आईआईटी के प्रोफेसर मनिंद्र अग्रवाल के मुताबिक वैक्सीनेशन करा चुके 9 प्रतिशत ऐसे लोग भी हैं जो एंटीबॉडी खो चुके हैं या वह इस समय अपनी एंटीबॉडी खो रहे हैं।ऐसे हालातों में इन लोगों को भी संक्रमण का ज्यादा खतरा है कोरोना के संक्रमण से ठीक होने के 90 दिन के भीतर जिन व्यक्तियों ने कोरोना के बचाव की वैक्सीन नहीं लगवाई है, उन्हें भी कोरोना का ज्यादा खतरा है। प्रोफेसर अग्रवाल के मुताबिक अगर डेल्टा वेरिएंट के मजबूत अथवा उसी की तरह का कोई नया म्यूटैंट आता है तो 2 अक्टूबर या नवंबर माह में तीसरी लहर का आना संभव है। इस दौरान रोजाना तकरीबन 100000 लोग देशभर में संक्रमित पाए जा सकते हैं। हालांकि दूसरी लहर के मुकाबले तीसरी लहर का असर कम होगा अगर म्युटेंट कमजोर रहा तो तकरीबन 40000 लोग ही रोजाना संक्रमित मिलेंगे। 

Post a Comment

0Comments

Please Select Embedded Mode To show the Comment System.*