प्रधानमंत्री से लेकर आमजन तक कल्याण सिंह को श्रद्धांजलि अर्पित किये

कौटिल्य वार्ता
By -
0



मनोज श्रीवास्तव/लखनऊ।

 पूर्व मुख्यमंत्री और दो प्रदेशों के राज्यपाल रहे स्व. कल्याण सिंह के अंतिम दर्शन के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से लेकर एक आम कार्यकर्ता पहुंचा। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अपने विशेष विमान से लखनऊ पहुंचे। एयरपोर्ट से प्रधानमंत्री सीधे माल एवेन्यु स्थित राज्यमंत्री संदीप सिंह के आवास पहुंचे जहां, स्वर्गीय कल्याण सिंह का पार्थिव शरीर रखा गया था। सफेद वस्त्र में दिल्ली से आये प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, राज्यपाल आनन्दीबेन पटेल, विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य, दिनेश शर्मा, प्रदेश अध्यक्ष स्वत्रंत्रदेव सिंह व अन्य प्रधानमंत्री ने नम आंखों से उनके पार्थिव शरीर पर पुष्प चढ़ाए और श्रद्धांजलि अर्पित की। इसके बाद प्रधानमंत्री ने घर के सदस्यों को ढ़ाढस बंधाया। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि कल्याण सिंह के निधन से देश ने मूल्यवान और सामर्थ्यवान नेता खो दिया है। मैं श्रीराम से प्रार्थना करता हूं कि भगवान कल्याण सिंह को अपने श्रीचरणों में स्थान दें। प्रधानमंत्री ने कहा कि कल्याण सिंह ने अपने नाम को सार्थक किया और जीवन भर लोगों के लिए काम करते हुए जनकल्याण को प्राथमिकता दी। कल्याण सिंह जनसामान्य के लिए प्ररेणा के प्रतीक बने। उन्होंने कहा कि मैं आप सबसे अपील करता हूं कि कल्याण सिंह के आदर्शों और संकल्पों के लिए अधिक से अधिक लोग पुरुषार्थ करें और उनके सपनों को पूरा करने की कोई कमी न रखें। कल्याण सिंह के पोते व उत्तर प्रदेश सरकार में राज्यमंत्री संदीप सिंह के आवास से उनका पार्थिव शरीर 11 बजे से एक बजे तक विधानसभा में, 1 से 3 बजे तक भाजपा कार्यालय में दर्शनार्थ रखा गया था। जहां भारी संख्या में उन्हें श्रद्धांजलि दी गयी। दिन में 3 बजे भाजपा कार्यालय से हजारों लोगों के काफिले के साथ चौधरी चरण सिंह एयरपोर्ट पहुंचा।जंहा से अलीगढ़ उनके पैतृक आवास रवाना किया गया।


सबसे पहले सुबह साढ़े सात बजे पूर्व मुख्यमंत्री व बसपा सुप्रीमों मायवती ने कल्याण सिंह को उनके आवास पर जाकर दिया। मायावती ने कहा, भाजपा के कद्दावर नेता व उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एवं राजस्थान के पूर्व राज्यपाल रहे कल्याण सिंह के निधन की खबर अति-दुःखद. उनके परिवार व समर्थकों आदि के प्रति मेरी गहरी संवेदना है। कुदरत उन सबको इस दुःख को सहन करने की शक्ति प्रदान करे। सपा मुखिया अखिलेश यादव ने ट्वीट किया, उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री, राजस्थान के पूर्व राज्यपाल श्री कल्याण सिंह जी का निधन हृदय विदारक! दिवंगत आत्मा को शांति एवं शोक संतप्त परिवार को दुख सहने की शक्ति दे भगवान. विनम्र श्रद्धांजलि!



पूर्व मुख्यमंत्री के कारण कल्याण सिंह को माल एवेन्यू का पांच नंबर का बंग्ला आवंटित था। उच्चतम न्यायालय के एक आदेश के बाद जब सभी पूर्व मुख्यमंत्रियों के आवास का आवंटन रद्द हुआ तो कल्याण सिंह ने बांग्ला खाली कर दिया था। बाद में यही बंग्ला उनके पोते व यूपी सरकार में राज्यमंत्री संदीप सिंह को आवंटित हुआ। तो लखनऊ प्रवास के दौरान कल्याण सिंह यहीं रहने लगे।


 


रो पड़े राजवीर


कल्याण सिंह के परिजनों के आंसू थमने का नाम नहीं ले रहे थे। माल एवेन्यु स्थित आवास पर एक के बाद एक बड़ी शख्सियत स्वर्गीय कल्याण सिंह के अन्तिम दर्शन के लिए आ रहीं थी और परिवार को ढ़ाढस बंधा रही थी। कल्याण सिंह के पुत्र राजवीर सिंह से बात की गई तो वह फफक-फफक कर रो पड़े। किसी तरह खुद को संभालते हुए वह बोले कि बाबू जी को जन-जन से स्नेह मिला है। हर किसी के मन में बाबू जी विराजे हैं इसलिए बाबू जी मरे नहीं है सिर्फ उन्होंने शरीर त्यागा है। वह अमर हो गए हैं। राजवीर ने कहा कि बाबू जी जीवन भर रामलला के लिए ही जिए और आज रामलला के पास ही चले गए। 

Post a Comment

0Comments

Please Select Embedded Mode To show the Comment System.*