बर्क और इमरान में कोई अंतर नहीं-केशव मौर्य

कौटिल्य वार्ता
By -
0



अफगानिस्तान की आजादी अफगानिस्तान का अपना मामला है-बर्क



मनोज श्रीवास्तव/लखनऊ। तालिबान को लेकर समाजवादी पार्टी के सांसद शफीकुर्रहमान बर्क के बयान पर उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने करारा जवाब दिया है। मौर्य ने उनकी तुलना पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान से कर दी है। उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी में कुछ भी संभव है। 




अपने बयानों को लेकर चर्चा में रहने वाले संभल के सांसद शपीकुर्रहमान बर्क ने सोमवार को अफगानिस्तान में तालिबान के कब्जे को सही करार दिया था। इसी को लेकर केशव प्रसाद मौर्य ने पूरी समाजवादी पार्टी पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी में कुछ भी संभव है। बर्क के बयान पर केशव ने कहा कि अगर कोई नेता इस तरह की बातें कहता है तो पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान और इनमें कोई अंतर नहीं है।  



सांसद शफीकुर्रहमान का कहना है कि अफगानिस्तान की आजादी अफगानिस्तान का अपना मामला है। अफगानिस्तान में अमेरिका की हुक्मरानी क्यों? उन्होंने कहा कि तालिबान वहां की ताकत है। अमेरिका रूस के तालिबान ने पैर नहीं जमने दिए। तालिबान की अगुवाई में अफगान आजादी चाहते हैं। भारत में भी अंग्रेजों से पूरे देश ने लड़ाई लड़ी थी। रहा सवाल हिंदुस्तान का तो यहां कोई कब्जा करने अगर आएगा उससे लड़ने को देश मजबूत है।



इससे पहले भी बर्क बयानों को लेकर चर्चा में रहे हैं। उन्होंने कहा था कि कोरोना कोई बीमारी है ही नहीं। कोरोना अगर बीमारी होती तो दुनिया में इसका इलाज होता। यह बीमारी सरकार की गलतियों की वजह से अजादे इलाही है, जो की अल्लाह के सामने रोकर गिड़गिड़ाकर माफी मांगने से ही खत्म होगी।


सांसद शफीकुर्रहमान बर्क ने बीजेपी सरकार पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा था कि मौजूदा सरकार ने शरीयत से ही छेड़छाड़ नहीं की है बल्कि अपनी सरकार में लड़कियों को पकड़वाकर बलात्कार करवाने, मॉब लिंचिंग और तमाम जुल्म ज्यादतियां की हैं, जिसकी वजह से कोरोना जैसी आसमानी आफ़त सामने है। शफीकुर्रहमान बर्क ने यह विवादित बयान मुरादाबाद में समाजवादी पार्टी के सांसद एसटी हसन के विवादित बयान के बाद दिया था। 

Post a Comment

0Comments

Please Select Embedded Mode To show the Comment System.*