रेलवे का 20 लाख का लोहा बेंचने का आरोपी रिटायर्ड इंजीनियर लोहानी गिरफ्तार

कौटिल्य वार्ता
By -
0


मनोज श्रीवास्तव/लखनऊ।

 बरेली के सीबीगंज के रेलवे गोदाम से 20 लाख रुपये के पेंड्रोल क्लिप और पिन की चोरी कर बेचने के आरोप में रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) ने करीब एक महीना पहले ही रिटायर्ड हुए वरिष्ठ सेक्शन इंजीनियर (रेलपथ) दिनेश प्रकाश लोहानी को गिरफ्तार किया है। लोहानी की निशानदेही पर इफ्को साइट से बेचे गए पेंड्रोल क्लिप बरामद किया। इसके बाद मंगलवार को लोहानी को रेलवे अदालत में पेश किया गया जहां से उसे जेल भेज दिया गया। आरपीएफ ने लोहानी को उनके राजेंद्रनगर स्थित आवास से सोमवार शाम को गिरफ्तार किया है।


आरपीएफ ने निशानदेही पर इफ्को आवंला साइट से 20 हजार पेंड्रोल क्लिप और पिन बरामद किया है। इनकी आपूर्ति मुरादाबाद और चंदौसी स्टेशनों पर दिखाई गई थी। आरपीएफ के प्रभारी निरीक्षक विपिन सिसोदिया ने बताया कि जांच में पता चला कि सेवानिवृत्त् सेक्शन इंजीनियर ने दस हजार पेंड्रोल क्लिप मुरादाबाद और पांच हजार चंदौसी भेजे जाने के फर्जी कागज तैयार किए थे। इसके अलावा एक और स्टेशन को पांच हजार पेंड्रोल क्लिप भेजने के कागज भी मिले हैं। जांच में पता चला कि पेंड्रोल क्लिप किसी भी स्टेशन को नहीं भेजे गए। अब आरपीएफ गोदाम के बाकी स्टॉक की भी जांच कर रहा है।



पूछताछ में उसने बताया कि जून के आखिरी सप्ताह में उसने पेड्रोल क्लिप ठेकेदार को बेची थी। जांच में पता चला कि चोरी में 30 जून को ही सेवानिवृत्त हुए वरिष्ठ सेक्शन इंजीनियर दिनेश प्रकाश लोहानी का हाथ है। इसके बाद उन्हें गिरफ्तार किया गया। निरीक्षक ने बताया कि इफ्को साइट में पटरियों के पेंड्रोल क्लिप बदले जाने थे जिसका इफ्को प्रबंधन ने एक ठेकेदार को ठेका दिया था। लोहानी ने सेवानिवृत्ति से एक सप्ताह पहले इसी ठेकेदार को पेंड्रोल क्लिप बेच दिए। 

Post a Comment

0Comments

Please Select Embedded Mode To show the Comment System.*