सम्भल मे साधू की फिर हत्या !

कौटिल्य वार्ता
By -
0

 योगिराज में थम नहीं साधुओं की हत्या!


मनोज श्रीवास्तव/लखनऊ।


 संभल जनपद के असमोली थाना इलाके में प्राचीन पातालेश्वर महादेव मंदिर के महंत की धारदार हथियार से गोदकर हत्या कर दी। शुक्रवार सुबह मंदिर परिसर में शव मिलने से हड़कंप मच गया। आनन-फानन में कई थानों की पुलिस और अफसर मौके पर पहुंचे। महंत का शव कब्जे में लेकर पुलिस ने पोस्टमार्टम को भेज दिया। मंदिर परिसर में महंत की हत्या से हिंदू संगठनों में आक्रोश फैल गया।


असमोली क्षेत्र के गुमसानी गांव में प्राचीन पातालेश्वर महादेव मंदिर है। मंदिर पर रहने वाले महंत भरत गिरी महाराज की गुरुवार रात अज्ञात लोगों ने धारदार हथियार से गोदकर हत्या कर दी। शुक्रवार सुबह ग्रामीण पूजा करने पहुंचे। तो महंत का लहूलुहान शव मंदिर परिसर में देख उनके होश उड़ गए। सूचना पुलिस को दी। महंत की मंदिर परिसर में हत्या की सूचना से पुलिस में हड़कंप मच गया। आनन-फानन में असमोली थाना प्रभारी रणवीर सिंह मौके पर पहुंचे। उन्होंने अफसरों को जानकारी दी। तो हजरतनगर गढ़ी समेत कई थानों के फोर्स के साथ सीओ अरुण कुमार सिंह और अपर पुलिस अधीक्षक आलोक कुमार जायसवाल मौके पर पहुंच गए। पुलिस ने महंत का शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम को भेज दिया। 



इस संदर्भ में पुलिस अधीक्षक चक्रेश मिश्र ने बताया कि सोनू बाल्मीकि नामक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया है।आरोपी नशे का आदी था और नशे का सेवन करने मंदिर के पुजारी के पास जाया करता था। घटना के दिन देर रात जब आरोपी युवक मोनू को नशे की तलब लगी तो पुजारी के पास मंदिर गया। जहां उसे पुजारी ने नशा देने से मना कर दिया। यही बात मोनू को नागंवार गुजरी ओर पास पड़ी लोहे की रॉड से पीट पीट कर पुजारी की हत्या कर दी। डॉग स्क्वायड ओर फोरेंसिक टीम ने बहुत तत्परता से आरोपी को दबोचने में सहायक रही।


अपराधी की निशानदेही पर पास के तालाब से लोहे की रॉड बरामद कर ली गयी है, जिससे पुजारी की हत्या की गयी थू। आरोपी को न्यायालय भेजा जा रहा है।एक हफ्ते के अंदर चार्जशीट दाखिल कर दी जाएगी और आरोपी को कड़ी से कड़ी सजा दिलाई जाएगी। 

Post a Comment

0Comments

Post a Comment (0)