पुलिस वेश में बस्ती के दो थाना क्षेत्रों वाल्टरगंज व कोतवाली में स्वर्णाभूषणों की डकैती

बस्ती,/हरिओम प्रकाश


वाल्टरगंज/कोतवाली में आज दिन दहाड़े  दोथाना क्षेत्रो में कथित पुलिस वाला बन सोनार की दुकान से लाखों की लूट का मामला प्रकाश में या है.पुलिस व अधिकारी हाथ पांव मार रहे है.पर अभी गिरफतारी व समान बरामदगी यक्ष प्रश्न बन उभर आई है.कानून व्यवस्था को चुनोती और गोरखपुर जैसी घटना की पुनरावृत्ति तो कही नही? पर जानकारों का कहना है इस बार पुलिस के वेश तो डकैत आये थे पर पुलिस नही थे.यह भी फिलहाल जांच का विषय है.सम्भव है कोतवाल ओर वाल्टरगंज के इंस्पेक्टर मामले का पर्दाफाश करने में सफल हो जाय ,पर अभी तो संशय के बादल हटने और फटने में समय लगेगा.वाल्टरगंज में कथित सिपाहियों ने थानाध्यक्ष की पत्नी के नाम दिखाने के लिए जेवर लेगये थे और बाप नही आये.

इस घटना से व्यापारी समाज अत्यंत असुरक्षित व क्षुब्ध है.

 थाना कोतवाली के चौकी सोनूपार के बगल व थाना वाल्टरगंज के पास भिटिया चौराहे  पर स्थित सर्राफा की दुकानो से पुलिस वाला बनकर लाखो के जेवर की लूट की लगातार घटना से स्वर्ण व्यवसायियो मे आक्रोश 

पुलिस अधीक्षक बस्ती के मिलकर घटना के खुलासा करने, मालबरामदगी व सुरक्षा की मांग की जाऐगी,,, 

घटना की जानकारी देते हुए सर्राफा एंव स्वर्ण व्यवसायी संघ के जिलाध्यछ कुन्दन लाल वर्मा ने   बताया कि दिनांक 17 6 2021 को कोतवाली थाना के सोनू पार चौकी के  सो डेढ़ सौ मीटर के दायरे पर स्थित रितेश सोनी के दुकान पर दो अज्ञात व्यक्ति जो अपने आप को पुलिस वाला बता रहे थे उन्होने सामान देखने व तलाशी के नाम पर लगभग ₹200000 की जेवर ले उड़े तथा दूसरी घटना में वाल्टरगंज के बगल सौ डेढ़ सौ मीटर के दायरे में भिटिया चौराहे पर स्थित नंदलाल सोनी के दुकान पर भी इसी प्रकार पुलिस वाला बन कर लगभग डेढ़ लाख रुपए का सामान ले गए इस प्रकार की घटनाओं से पुलिस पर उंगलियां उठने लगी हैं क्योंकि परसों की घटना कि अभी तक एफआईआर नहीं दर्ज की गई है एफ आई आर दर्ज ना होने से अपराधियों की धरपकड़ में पुलिस कोई कोशिश नहीं की इसी कारण दूसरी घटना हुई है लगातार घटनाएं पुलिस विभाग के सुरक्षा के दावों की पोल खोलता है इस बात को लेकर के सर्राफा एवं स्वर्ण व्यवसाई संघ का प्रतिनिधिमंडल एसपी को ज्ञापन सौंपकर एक

 सप्ताह के भीतर मामले का खुलासा किए जाने अपराधियों को पकड़े जाने और पूरी माल बरामदगी का मांग करेगा अन्यथा संगठन के निर्णय अनुसार अतिरिक्त कार्यवाही संगठन करेगा .इस प्रकरण पर सवर्ण व्यवसायी संघ बेहद नाराज है.

              

Comments