अनलाक होते ही ़सड़क पर उतरी भीड़

 





जौनपुर। 
कोरोना कर्फ्यू से राहत देते हुए शासन ने बुधवार से दिन में अनलॉक की घोषणा की। बाजार गुलजार हुए और लोग खरीदारी को निकले। शहरी क्षेत्र में सुबह से दोपहर तक   का भीड़ आलम नजर आया पर शाम ढलते ही सार्वजनिक स्थानों से लेकर फुटपाथी दुकानों पर बेतहाशा भीड़ नजर आई। बड़ी संख्या में दुकानदार भी कोविड-19 नियमों को लेकर बेपरवाह दिखे। गोले बनाकर ग्राहक को खड़ा करने और मास्क लगाकर सामान देने व खरीदारी के निर्देशों की धज्जियां उड़ गईं। केवल हॉट-बाजार नहीं बल्कि सवारी वाहनों में भी नियमों का पालन नहीं किया गया। बस स्टैंड पर वाहन के इंतजार में बैठी भीड़ के बीच शारीरिक दूरी तार-तार नजर आई। नियमों का पालन कराने वाले भी गायब रहे।  शहर के प्रमुख बाजारों में सुबह से ही दुकानें खुल गई थीं। 
हालांकि दोपहर तक कम भीड़ रही किराना दुकानों पर जरूर खरीदारी की गई। ग्राहक मास्क लगाकर पहुंचे, अधिकतक दुकानों के बाहर ग्राहकों के खड़े होने के लिए गोले गायब थे। पहुंचे लोग शारीरिक दूरी के नियम को तार-तार करते रहे। दुकानदार मास्क लगाए थे, तो उनके कर्मचारी लापरवाही बरतते रहे। रेलवे स्टेशन पर कहीं से नियमों का पालन होते नहीं दिखा। लोग झुंड में बैठ ट्रेन का इंतजार करते नजर आए।  तहसील क्षेत्रों में  अनलॉक की घोषणा के पहले ही दिन बाजार में मेला जैसा नजारा देखने को मिला।
 सुबह से ही बाजार में खरीदारी करने लोग इस तरह उमड़े कि घंटों जाम की स्थिति बन गई। ऐसा लगा कि यह लोग कोरोना की भयावहता को भुला बैठे हैं।  सड़कों पर वाहनों का रेला नजर आया। दो पहिया वाहनों के अलावा चार पहिया वाहनों के चलते   जाम की स्थिति बनी रही।   ग्राहकों की भीड़ सुबह से ही किराना, कपड़ा समेत अन्य दुकानों में उमड़ पड़ी। वहीं अनलॉक के पहले दिन ही ज्यादातर दुकानों में कोरोना संक्रमण के बचाव जैसा कुछ दिख ही नहीं रहा था। अधिकांश दुकानों में न तो दुकानदार मास्क का उपयोग करते दिखे और न ही ग्राहक मास्क लगाए दिख रहे थे।
Comments