बोर्ड परीक्षा शुल्क से वसूले तीन अरब रुपये वित्तविहीन शिक्षकों में वापस हो:संजय द्विवेदी

कौटिल्य वार्ता
By -
0

 

बस्ती/सन्तकबीरनगर

बोर्ड परीक्षा शुल्क से वसूले तीन अरब रुपये वित्तविहीन शिक्षकों में वापस हो:संजय द्विवेदी

- उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ की मण्डलीय वर्चुअल बैठक संपन्न
- मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर वित्तविहीन शिक्षकों को मानदेय देने व सेवा नियमावली बनाए जाने की माग

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ की मण्डलीय वर्चुअल बैठक सम्पन्न हुई। बैठक की अध्यक्षता मण्डलीय अध्यक्ष राम पूजन सिंह  व संचालन जिला उपाध्यक्ष मोहम्मद आफताब आलम ने किया। मण्डलीय मंत्री संजय द्विवेदी ने कहा कि हाईस्कूल व इंटरमीडिएट बोर्ड परीक्षा निरस्त होने से 56 लाख 3 हजार 8 सौ 13 छात्र-छात्राओं के शुल्क से राजकोष में जमा किये गए तीन अरब 10 करोड़ 13 लाख 7 हजार 7 सौ रुपये वित्त विहीन शिक्षकों को मानदेय के रूप में वापस किया जाय। मांगों के समर्थन में प्रांतीय अध्यक्ष चेत नारायण सिंह सहित अन्य प्रांतीय पदाधिकारियों ने मुख्यमंत्री को पत्र लिखा है।
            उन्होंने कहा कि इस वर्ष कक्षा 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षा के लिए कुल 56,03,813 उम्मीदवारों ने पंजीकरण कराया है। इसमें से कक्षा 12वीं की परीक्षा के लिए 29,94,312 छात्रों ने और कक्षा 10वीं परीक्षा के लिए 26,09,501 छात्रों ने आवेदन किया है। हाईस्कूल से 500 व इंटरमीडिएट से 600 रुपया शुल्क प्रति छात्र लिया गया है, जो परीक्षा ना होने के कारण खर्च नही हो पाया है।
           श्री द्विवेदी ने कहा है कि कोरोना महामारी के कारण अधिकांश समय विद्यालय बंद होने के कारण प्रबंधतंत्रों द्वारा शिक्षण शुल्क प्राप्त ना होने के कारण वेतन देने में असमर्थता व्यक्त की जा रही है। ग्रामीण क्षेत्र में तो स्थिति अत्यंत दयनीय हो गयी है। वेतन ना पाने के कारण वित्तविहीन विद्यालयों के शिक्षक भुखमरी के कगार पर पहुंच गए हैं। 

           उन्होंने कहा की संगठन निरन्तर मांग कर रहा है कि सरकार माध्यमिक शिक्षा परिषद् के मान्यता की धारा 7क (क) को संसोधित कर 7(4) में परिवर्तित करे, और वित्तविहीन विद्यालयों में कार्यरत शिक्षकों की सेवा नियमावली निर्मित कर पांच अंकों में सम्मानजनक मानदेय बैंक के माध्यम से दे, किन्तु सरकार निरन्तर वादाखिलाफी कर रही है। 
         वर्चुअल बैठक में प्रांतीय उपाध्यक्ष मार्कंडेय सिंह, मोहिबुल्लाह खान, गिरिजानंद यादव, युनुश अख्तर, अदनान अहमद, विनय दुबे, शैलेंद्र कुमार, रणविजय, राकेश कुमार, अनिल चौधरी, विजय यादव, जय प्रकाश गौतम, गिरिजेश कुमार, विंध्याचल सिंह, राम नारायण पांडेय, रविन्द्र चौरसिया, मुकेश यादव, मनीराम वर्मा, राहुल कुमार, कन्हैया लाल, अनिल चौधरी,मुहम्मद अदनान, मंतोष कुमार मौर्या, सलाहुद्दीन, इन्द्र प्रताप सिंह, जय गोपाल, रणविजय सिंह, पारस नाथ यादव,  अफजल खान, श्रीकांत गुप्ता, संजय चौबे, कमलेश यादव व नाहिद जमाल अंसारी सहित अन्य लोग मौजूद रहे।

Post a Comment

0Comments

Post a Comment (0)