उत्तरप्रदेश की जेलों में वंदियो के परिजन अब कोई भी समान नही लेजा सकेगे !

 बस्ती/लखनऊ


जिस तरह से उत्तर प्रदेश के जेले अपराधियों और उनके चहेतों के आरामगाह बनी हुई थी , मनमाफिक भोजन मनमाफिक मिलना मनमाफिक कपड़े मनोरंजन टेलीविजन एंड्रॉयड फोन सारी सुविधाओं से लैस जिला जेल हुआ करते थे .अब जिला जेलों में स्थिति में प्रशासन ने बदलाव किया है .शासन ने बदलाव करते हुए कहा है कि अब उत्तर प्रदेश की जेलों में बंद कैदियों के परिजन अपने परिजनों को कोई भी सामान बाहर से ले जा कर के नहीं दे सकते .एक तरह से पूरी तरह से प्रतिबंध लगा दिया गया है.

 जीडी जेल आनंद कुमार ने कोविड-19 महावारी की लहर को ध्यान में रखते हुए बंदियों के परिजनों द्वारा बाहर से दिए जाने वाले सभी सामानों को जेल के अंदर ले जाने पर प्रतिबंध लगा दिया .डीजी के अनुसार किसी भी प्रकार के आदेश का उल्लंघन जिला जेल के जेलर व  जेल अधीक्षक सयुक्त रूप से जिम्मेदार होंगे .

अभी तक होता रहा है कि माफिया सरगना टाइप लोगों को और वैसे भी लोगों को धन लेकर के जेल कर्मी सिपाही भू जापानी मिठाई अन्य सामान बीड़ी सिगरेट पान गुटखा पहुंचा दिया करते थे लेकिन अब जीडी जेल के अनुसार अगर इसमें कुछ भी होता है तो उसमें जेल अधीक्षक और जेल का संयुक्त दायित्व माना जाएगा .

Comments
Popular posts
ॐ नमो ब्रह्मनदेवाय गो ब्राह्मण हिताय च!
30 लाख की फिरौती के फ़ेर में छात्रा की हत्या
सरकार को कानून व्यवस्था का दंभ, अपराधियों ने किया नाक में दम! लखनऊ में 7 साल की मासूम से अगवा कर दरिंदगी; 1 आरोपी गिरफ्तार, दूसरा फरार! हाईकोर्ट के पास सरेराह चौराहे पर महिला वकील की मोबाइल छीन लुटेरा फरार छात्रों के दो गुटों में संघर्ष, एक की मौत!
Image
योगी के यूपी में दो साल में जबरन धर्मांतरण के 291 मामले दर्ज, 507 गिरफ्तार
Image
साई बाबा के पिता पिंडारी मुसलमान थे,इनका काम भारत मे लूटपाट करना था
Image