चिकित्साल्यों की यमराज की भूमिका अमानवीय कृत्य,अज्ञात शव कहकर अस्पताल अपना पिंड नही छुड़ा सकते,हाइकोर्ट

 बस्ती,प्रयागराज


उत्तर प्रदेश में चिकित्सा व्यवस्था पर एक बार फिर प्रश्नचिन्ह लगाते हुए इलाहाबाद हाईकोर्ट ने प्रश्न खड़ा किया है. कोर्ट ने कहा है कि उत्तर प्रदेश के ग्रामीण इलाकों में आज भी रामभरोसे शिक्षा चिकित्सा व्यवस्था है . किसी भी प्रकार के वहां उपकरण नहीं संसाधन नहीं ,व्यवस्था नहीं ,यहां तक कि डॉक्टरों की उपस्थिति भी नहीं और जो डॉक्टर नियुक्त हैं वह रात्रि में वहां रहते नहीं .यह सारी व्यवस्था राम भरोसे चल रही है.

 यह बातें उस समय उच्च न्यायालय ने कहा जब कि मेरठ के एक मेडिकल कॉलेज के बाथरूम में संतोष कुमार नामक मरीज के बेहोश होकर गिरने पर मौत हो गई .उनके शव को अज्ञात,लावारिश  दिखाकर  निस्तारित कर दिया गया .मामला माननीय न्यायालय के समक्ष पहुंचा था उन्होंने संज्ञान लेते हुए कहा कि स्थिति अत्यंत घातक है और किसी भी नागरिक के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ नहीं की जानी चाहिए और कम से कम मेडिकल कॉलेज में अगर कोई किसी भी प्रकार से मरता है तो उसका समुचित निस्तारण होना चाहिए और उसको या कहने से कि यह लावारिस लाश है इस से काम नहीं चलेगा .

यह पूरी व्यवस्था पर प्रश्न खड़ा करता है आए दिन जिला चिकित्सालय, मेडिकल कॉलेज ,पीएचसी ,सीएचसी हर जगह पर अभिभावक अपने मरीजों को ले जा कर के परेशान हो रहे हैं ,प्रताड़ित हो रहे हैं . संबंधित लोग सुनते नहीं . कभी ऑक्सीजन के नाम पर ,कभी दवा के नाम पर ,कभी पुलिस के नाम पर डंडा बरसा करके वहां से परिजनों को भगाकर अमानवीय कृत्य कर रहे हैं .

उदाहरण एक नहीं हर जिले में इसके उदाहरण मिल जाएंगे व्यवस्था से जुड़े हुए लोगों को अगर आईना हो तो देखना चाहिए मानवता को एक तो कोरोना नाश कर रहा है दूसरे उनका आचरण भी यमराज की भूमिका में है इस पर विराम लगना चाहिए.

Comments
Popular posts
सड़क किनारे मिली वृद्धा की लाश
Image
बेसिक शिक्षा अधिकारी सही पर उनका तरीका गलत,जाँच में आंच की संभावना कम
कृष्ण देव मिश्र बस्ती प्रेस क्लब के चुनाव अधिकारी होंगे
*पं. गणेश प्रसाद मिश्र सेवा न्यास द्वारा सतना में पर्यावरण व स्वास्थ्य शिविर के कार्य शहर की ज़रूरत : योगेश ताम्रकार * *848 मरीज़ों का 16 जिलों से आये आनलाइन पंजीयन उल्लेखनीय सेवा कार्य: उत्तम बनर्जी * * तिरंगा ध्वज व वृक्षारोपण राष्ट्रीय अभियान में सभी संगठनों से सहयोग की अपील: कलेक्टर अनुराग वर्मा * *मेदांता द्वारा आयोजित दो-दिवसीय निःशुल्क चिकित्सा शिविर उद्घाटित: शंकरलाल तिवारी * *मेदांता हॉस्पिटल दिल्ली के डॉक्टरों की टीम ने पहले दिन 534 मरीजों का किया परीक्षण एवं 1693 जाँचें हुईं।*
Image
आई जी आर यस शिकायतों के निस्तारण में स्वास्थ्य,वेसिक शिक्षा, पंचायती राज विभाग कलक्टर की क्लास में पूरे फेल
Image