बस्ती महोत्सव मे स्थानीय कलाकारों को मिलेगा प्रोत्साहन

 बस्ती 09 फरवरी 


 बस्ती महोत्सव में भाग लेने वाले स्थानीय कलाकारों तथा विभिन्न विद्यालयों के सांस्कृतिक कार्यक्रम के चयन के लिए जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन ने स्क्रीनिंग कमेटी का गठन किया है। मण्डलायुक्त सभागार में आयोजित महोत्सव संबंधी बैठक में उन्होंने कहा कि तीन दिवसीय महोत्सव में अच्छे कार्यक्रमों को प्रस्तुत किया जाए। इससे स्थानीय कलाकारों का मनोबल बढ़ेगा तथा जिले की जनता अपने प्रतिभाओं से रूबरू हो सकेगी। यह स्क्रीनिंग कमेटी सीआरओ नीता यादव की अध्यक्षता में गठित की जाएगी, जिसमें स्थानीय विद्यालयों के विशेषज्ञ संगीत शिक्षक सदस्य होंगे। 

     जिलाधिकारी ने बैठक में उपस्थित सभी समितियों के प्रभारी अधिकारियों को निर्देशित किया है कि वह अपने समिति के सदस्यों एवं वॉलिंटियर्स के साथ बैठक करके अपने कार्यों की कार्य योजना बना लें तथा इसे अपर जिलाधिकारी कार्यालय में जमा भी कर दें। सुनिश्चित करें कि सभी कार्य समय से पूर्ण हो ताकि बस्ती महोत्सव यादगार बनाया जा सके।


    उन्होंने कहा कि इस बार बस्ती महोत्सव भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री पंडित अटल बिहारी बाजपेई प्रेक्षागृह के प्रांगण में आयोजित किया जाएगा। मंच, पांडाल एवं परिसर में आयोजित होने वाली प्रदर्शनी के लिए प्रभारी अधिकारी एवं वॉलिंटियर्स मौके का मुआयना करके अंतिम रूप से फाइनल करें ताकि समय से तैयारी पूरी की जा सके। मंच, पांडाल एवं पूरे परिसर में कोविड-19 के प्रोटोकॉल का पालन किया जाना आवश्यक है इसलिए व्यवस्था करते समय इसका ध्यान अवश्य रखा जाए। महोत्सव के दौरान कोविड-19 का अलग से स्टाल भी लगाया जाएगा, जहां लोगों को जागरूक करने के साथ-साथ इसके खतरों से आगाह करते हुए सुरक्षा एवं रोकथाम के उपायों की जानकारी दी जाएगी।

      उन्होंने कहा कि परिसर में विभागों द्वारा आकर्षक प्रदर्शनी लगाई जाए, निजी संस्थाओं के स्टाल भी लगाए जाएंगे तथा खाने के सामानों का अलग से फूड जोन बनाया जाएगा। बच्चों के मनोरंजन के लिए भी आवश्यक इंतजाम किए जाएंगे। कोविड-19 के कारण इस बार महोत्सव का स्वरूप छोटा होगा परंतु भव्यता और दिव्यता में कोई कमी नहीं होने दी जाएगी। सुरक्षा के व्यापक प्रबंध किए जाएंगे, तीन दिवसीय महोत्सव में तीनों दिन अलग-अलग मुख्य अतिथि होंगे और उनकी सुरक्षा व्यवस्था का जिम्मा पुलिस प्रशासन का होगा। बाहर से आने वाले कलाकारों, कवियों एवं अन्य महानुभावों के संपूर्ण व्यवस्था के लिए अलग से अधिकारी एवं वॉलिंटियर्स तैनात किए जाएंगे। उन्होंने सभी समितियों के प्रभारी को निर्देश दिया है कि अपने द्वारा की गई तैयारी की जानकारी प्रत्येक दिन अपर जिलाधिकारी तथा स्वयं उन्हें भी उपलब्ध कराते रहें ताकि किसी प्रकार की दिक्कत को समय से दूर किया जा सके।


     उन्होंने कहा कि बस्ती महोत्सव जिले के सभी नागरिकों का महोत्सव है। वे अपना सुझाव एवं योगदान दे सकते हैं। नागरिकों को अपने आचरण एवं कार्य से इस महोत्सव को और अधिक ऊंचाई पर ले जाने का प्रयास करना चाहिए। महोत्सव के लिए किसी भी सरकारी विभाग से आर्थिक सहयोग नहीं लिया जा रहा है, लेकिन जनता इसमें सहयोग करने के लिए आमंत्रित है। वे यूनियन बैंक स्थित बस्ती महोत्सव के खाते में चेक, ड्राफ्ट के माध्यम से अपना योगदान कर सकते हैं। 

       उन्होंने याद दिलाया कि पिछले वर्ष महोत्सव के दौरान आर्थिक सहयोग करने वाले नागरिकों, संस्थाओं का मंच से उद्घोषणा की गई थी। जनपद के नागरिक चाहे वे जिले में रहते हो या कहीं बाहर अपना योगदान करके बस्ती से अपना जुड़ाव प्रकट कर सकते हैं। इसके लिए चंदा प्राप्त करने के लिए ना तो किसी को अधिकृत किया गया है और ना ही कोई रसीद छपाई गई है। जिस किसी नागरिक को आर्थिक सहयोग करना है, वे यूनियन बैंक के खाते में कर सकते है। समय आने पर इसका लेखा-जोखा भी प्रस्तुत किया जायेंगा। 

      उन्होंने कहा कि पिछले बस्ती महोत्सव में तैयार किए गए वेबसाइट को पुनः संचालित किया जाएगा।। महोत्सव के बारे में डिजिटली प्रचार प्रसार किया जाएगा ताकि देश-विदेश के लोग इसमें प्रतिभाग एवं सहयोग कर सकें। महोत्सव के बारे में प्रत्येक दिन प्रेस विज्ञप्ति जारी करके जनमानस को जागरूक किया जाएगा। इसके अलावा प्रमुख स्थानों पर होल्डिंग तथा बैनर लगाए जाएंगे। बस्ती थीम सॉन्ग ने वर्तमान प्रगति को जोड़ते हुए पुराने स्वरूप में ही रखा जाएगा। हर स्थान पर महोत्सव के लोगों का प्रदर्शन किया जाएगा। भारत सरकार एवं राज्य सरकार के महत्वाकांक्षी योजनाओं के वृहद प्रचार प्रसार के लिए स्टाल, होर्डिंग, प्रदर्शनी एवं विभागीय वर्कशॉप, सेमिनार आयोजित किए जाएंगे।

     बैठक का संचालन एडीएम अभय कुमार मिश्रा ने किया, इसमें सीडीओ सरनीत कौर बोका, सीआरओ नीता यादव, अपर पुलिस अधीक्षक रवींद्र कुमार, उप जिलाधिकारी आसाराम वर्मा, नीरज प्रसाद पटेल, तहसीलदार पवन जयसवाल, चंद्रभूषण प्रताप, डॉ० संजय त्रिपाठी, पीडी आरपी सिंह, संजेश श्रीवास्तव, मुख्य कोषाधिकारी श्रीनिवास त्रिपाठी, विनय सिंह, डीएस यादव, जगदीश शुक्ला, प्रधानाचार्य नीलम सिंह, नीलोफर उस्मानी, सांसद प्रतिनिधि राजेश पाल चौधरी, भावेश पांडे, विवेकानंद मिश्रा, विमल पांडे, प्रदीप पांडे, जिला पूर्ति अधिकारी रमन मिश्र, सहायक अभियंता पीडब्ल्यूडी सीपी सिंह, विभागीय अधिकारीगण, समिति के सदस्य वॉलिंटियर्स उपस्थित रहे।


Comments