मदरसों के शिक्षकों को शीघ्र मिलेगा मानदेय,कलक्टर,बस्ती

 


बस्ती, वशिष्ठनगर, उत्तरप्रदेश, भारत 18 दिसम्बर 20
, जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन ने कहा है कि भारतीय संविधान द्वारा प्रत्येक नागरिक को समान अधिकार दी गयी है। हमें इन अधिकारों के साथ-साथ अपने कर्तव्यों का भी पालन करना चाहिए ताकि समाज एवं देश का विकास हो सकें। पुलिस लाइन सभागार में आयोजित अल्पसंख्यक अधिकार दिवस पर सम्बोधित करते हुए उन्होने कहा कि अल्पसंख्यको को कुछ अतिरिक्त अधिकार भी दिए गये है। पूरे देश में धार्मिक आधार पर 07 प्रकार के अल्पसंख्यक है।
उन्होने सभी अल्पसंख्यको से अपील किया कि वे अपने बच्चों को शिक्षित करें तथा आर्थिक रूप से सबल बनें। इसके लिए केन्द्र एवं राज्य सरकार द्वारा संचालित योजनाओं का लाभ लिया जा सकता है। उन्होने बताया कि अल्पसंख्यक समुदाय के बच्चों के लिए छात्रवृत्ति एंव शुल्क प्रतिपूर्ति की व्यवस्था है। शादी अनुदान तथा मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योदना भी संचालित है। उन्होने आश्वस्त किया कि बस्ती जिले को उ0प्र0 अल्पसंख्यक वित्त विकास निगम का लाभ दिलाने के लिए शासन को संस्तुति भेजी जायेंगी।


उन्होने बताया कि प्रधानमंत्री जन विकास कार्यक्रम रामनगर, नगर पालिका बस्ती एवं 09 अन्य ब्लाक में संचालित हो रही है। इसके अन्तर्गत वर्ष 2015-16, 2016-17 एवं 2017-18 में स्वीकृत काफी योजनाए पूर्ण हो गयी है। नये कार्यो के लिए कार्य योजना तैयार की जा रही है। उन्होने अश्वस्त किया कि मदरसों के शिक्षको के लिए मानदेय की व्यवस्था शीघ्र करायी जायेंगी। उन्होने अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी को निर्देश दिया कि 02 माह का मानदेय एक सप्ताह के अन्दर उनके खातो में भेजवायें।
पुलिस अधीक्षक हेमराज मीणा ने कहा कि पिछले एक वर्ष के कार्यकाल में अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों का भरपूर सहयोग पुलिस विभाग को मिला है। उन्होने कहा कि प्रत्येक नागरिक अपने कर्तव्यों का पालन करे तो उसे अधिकार स्वतः प्राप्त हो जायेंगे। उन्होने कहा कि पश्चिमी उ0प्र0 की तुलना में पूर्वी उ0प्र0 में कुटीर उद्योग कम है। इसको बढावा देने की आवश्यकता है।
बैठक की अध्यक्षता करते हुए सरदार जगवीर सिंह ने कहा कि अल्पसंख्यक वित्त विकास निगम द्वारा संचालित ऋण योजनाओं में एकमुस्त समाधान योजना लागू किया जाना चाहिए। जिला विकास अधिकारी अजीत श्रीवास्तव ने अल्पसंख्यको के लिए संचालित योजनाओं की विस्तृत जानकारी दिया। गोष्ठी को जगदीश प्रसाद शुक्ल, मौ0 अब्दुल रहीम, मास्टर हारून, मास्टर सिकन्दर, मेहदी हसन, पिन्सपल हमदा शाही, शादाब बस्तवी ने भी सम्बोधित किया।  अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी पूॅजा पाल ने सभी के प्रति धन्यवाद ज्ञापित किया।
Comments