दत्तात्रेय होसबोले ने किया ‘मेरी संघ यात्रा’ का विमोचन,एक अनुभवजन्य प्रतिपादन

 


नई दिल्ली, भारत ,16 दिसम्बर 20

 राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के कार्यकर्ता ओम प्रकाश गर्ग की पुस्तक ‘मेरी संघ यात्रा’ का विमोचन बुधवार को संघ के सह-सरकार्यवाह श्री दत्तात्रेय होसबोले एवं अखिल भारतीय सह संपर्क प्रमुख श्री रामलाल ने किया। कार्यक्रम में भारतीय जन संचार संस्थान (आईआईएमसी) के महानिदेशक प्रो. संजय द्विवेदी भी विशेष तौर पर उपस्थित थे।


इस अवसर पर श्री दत्तात्रेय होसबोले ने कहा कि संघ के बारे में कई भाषाओं में पुस्तकें प्रकाशित हुई हैं, लेकिन हर पुस्तक का अलग महत्व होता है। संघ का एक कार्यकर्ता जब किताब लिखता है, तो उस पुस्तक में सिर्फ उसके अनुभव ही नहीं, बल्कि उसके हृदय की भावना भी समाहित होती हैं। उन्होंने कहा कि यह पुस्तक अगली पीढ़ी के लिए संघ का एक दस्तावेज है।

संघ के अखिल भारतीय सह संपर्क प्रमुख श्री रामलाल ने कहा कि आरएसएस को सुनकर नहीं, बल्कि देखकर समझा जा सकता है और इस पुस्तक में संघ के बारे में जो भी लिखा गया है, वह एक कार्यकर्ता का प्रत्यक्ष अनुभव है।

इस संबंध में लेखक ओम प्रकाश गर्ग ने बताया कि यह पुस्तक आत्मकथ्य नहीं है। अपने जीवन में संघ और समाज से जुड़कर कार्य करने की जो प्रेरणा मुझे मिली है, उसके संस्मरण इस पुस्तक में शामिल हैं। इसके अलावा वर्तमान परिस्थितियों में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की क्या आवश्यकता है, इसका विश्लेषण करने का मैंने प्रयास किया है।

पुस्तक की भूमिका संघ के मध्य क्षेत्र संघ चालक श्री अशोक साहनी ने लिखी है। पुस्तक में कई संघ गीतों को भी शामिल किया गया है, जो प्रेरक, मार्गदर्शक तथा राष्ट्रभाव का जागरण करने वाले हैं। संघ की रचना, उसके विचार एवं कार्य पद्धति को भी इस पुस्तक के माध्यम से समझा जा सकता है। किताब का प्रकाशन भोपाल के पहले पहल प्रकाशन ने किया है।

Comments