कांग्रेस कार्यालय पर पं. राममिलन चतुर्वेदी को नम आंखो से दिया अंतिम विदाई,पूर्वाचल विद्वत परिषद ने भी किया अंतिम नमन.

बस्ती,वशिष्ठनगर, भारत,19 दिसम्बर

कांग्रेस के पूर्व जिलाध्यक्ष पं. राममिलन चतुर्वेदी का शव अंतिम संस्कार से पूर्व शुक्रवार को जिला कांग्रेस कमेटी कार्यालय लाया गया जहां पार्टी नेताओं, कार्यकर्ताओं, अनेक राजनीतिक दलों के पदाधिकारियों, स्थानीय नागरिकों ने भरे मन से श्रद्धा सुमन अर्पित करते हुये नमन् किया। कांग्र्रेस अध्यक्ष अंकुर वर्मा ने कहा कि पार्टी के लिये उनका निधन बड़ी क्षति है। आखिरी सांस तक वे कांग्रेस को मजबूत करने में लगे रहे और उदार मन से कांग्रेस कार्यालय के निर्माण में अपनी भूमिका निभायी। उनका योगदान सदैव याद किया जायेगा। पं. राममिलन चतुर्वेदी का अंतिम संस्कार अयोध्या में सरयू तट पर होगा। उनका आकस्मिक निधन छत्तीसगढ के रायपुर में इलाज के दौरान 17 दिसम्बर को हो गया था।


पं. राममिलन चतुर्वेदी को श्रद्धांजलि अर्पित करने वालों में पूर्व विधायक अम्बिका सिंह, अफसर यू अहमद, अनूप पाण्डेय, राम जियावन, सपा जिलाध्यक्ष महेन्द्रनाथ यादव, ब्लाक प्रमुख प्रतिनिधि संत प्रकाश त्रिपाठी, लोक जन शक्ति पार्टी अध्यक्ष कुलवेन्द्र सिंह ‘ मजहबी’ दिनेश पाल, मनमोहन श्रीवास्तव ‘काजू’ अभिषेक उपाध्याय, कन्हैया दूबे, जवाहिर मिश्र, छोटेलाल तिवारी, प्रेमशंकर द्विवेदी, नर्वदेश्वर शुक्ल, दुर्गेश त्रिपाठी, आदित्य त्रिपाठी,विपिन राय, सचिन शुक्ल, देवेन्द्र श्रीवास्तव, डा. वाहिद सिद्दीकी, अनिल भारती, विश्वनाथ चौधरी, ज्ञान प्रकाश पाण्डेय ‘ज्ञानू’ डा. दीपेन्द्र सिंह, रूपेश पाण्डेय, विकास वर्मा, सूर्यमणि पाण्डेय, कुंवर जितेन्द्र बहादुंर सिंह,  प्रमोद द्विवेदी,  पंकज द्विवेदी, सन्तोष शुक्ल, दिनेश गुप्ता, जगदीप श्रीवास्तव, परमेश्वर शुक्ल ‘पप्पू’ के साथ ही अनेक राजनीतिक दलों के लोग शामिल रहे। अंतिम यात्रा में उनके पुत्र राहुल चर्तुवेदी के साथ ही परिजन भी शामिल रहे.
पूर्वाचल विद्वत परिषद ने भी श्री चतुर्वेदी को अंतिम प्रणाम कर उनके सामाजिक व राजनीतिक योगदान की चर्चा की।
Comments