व्यापारी की हत्या हुई है आत्म हत्या नही... व्यापारी नेता

 


 


बस्ती, 09 नवम्बर 2020,उत्तरप्रदेश


महसों कस्बा निवासी व्यापारी श्रवण गुप्ता की संदिग्ध मौत को व्यापारी आत्महत्या मानने को तैयार नही हैं। पुलिस की थ्योरी से असंतुष्ट व्यापारी नेता बस्ती उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल के जिलाध्यक्ष आनंद राजपाल के नेतृत्व में आज पुलिस कप्तान से मिले और संब इंसपेक्टर स्तर से उच्च अधिकारी से मामले की जांच कराने की मांग किया। श्रवण गुप्ता (32) की 03 नवम्बर को लालगंज थाना क्षेत्र के ठेकनापार बागीचे में पेड़ से लटकती हुई लाश मिली थी।



पुलिस प्रथमदृष्टया मामले को आत्महत्या मानकर चल रही थी। जबकि मौका देखकर हर कोई आत्महत्या की संभावनाओं से इनकार कर रहा था। व्यापारी नेताओं ने एसपी को दिये पत्र में तर्क दिया है कि जमीन ने करीब 20 फिट ऊपर, अकेले एक आदमी के लिये रस्सी के सहारे लटक कर जान देना बेहद मुश्किल लगता है। बागीचे में चार पहिया वाहन की आवाजाही, गरदन में बगैर फंदा लगाये लटकने, और संदिग्ध सुसाइड नोट कहीं न कहीं हत्या की ओर इशारा करते हैं।


 


आनंद राजपाल ने पुलिस कप्तान से कहा आत्महत्या की प्रवृत्ति अचानक विकसित नही होती, धीरे धीरे व्यक्ति पहले अवसाद में जाता है, दिनचर्या से हटकर भिन्न प्रकार के व्यवहार करने लगता है, समाधान के रास्ते बंद हो जाते हैं तब जाकर वह ऐसा खौफनाक कदम उठाता है। परजिनों का कहना है कि श्रवण के व्यवहार में कोई बदलाव नही था और न ही वह अवसाग्रस्त था। उसका स्वभाव भी हसमुख और समस्याओं के समाधान ढूढ़ने वाला था। पत्नी ने बताया कि श्रवण ने शाम को घर आने से पहले जरूरत के सामानों की जानकारी ली थी और उसे खरीदकर अपने बैग में रखा था।


 


यदि उसके मन में आत्महत्या के विचार होते तो वह घर की जरूरतों के सामान क्यों खरीदता। बस्ती उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल के पदाधिकारियों ने स्वतः घटनास्थल को बारीकी से देखा, परिजनों से मिले, ऐसे में ज्यादा संभावना बनती है कि किसी ने श्रवण की हत्या कर उसकी लाश को बागीचे में पलान्ट कर दिया हो। पुलिस कप्तान ने व्यापारियों की बातों को गंभीरता से लिया और मामले की जांच अपर पुलिस अधीक्षक रवीन्द्र सिंह को सौंप दिया। व्यापारियों ने एसपी को धन्यवाद दिया है। ज्ञापन देते समय व्यापारी नेता सुनील कुमार गुप्ता, सूर्यकुमार शुक्ल, रविन्द्र पाल सिंह जल्लू, परशुराम, रविन्द्र कश्यप, अर्जित कसौधन, ऋषभ् गुप्ता और साथ में मे मृतक श्रवण गुप्ता के परिजन व ग्रामीण मौजूद रहे


 


Comments
Popular posts
ॐ नमो ब्रह्मनदेवाय गो ब्राह्मण हिताय च!
बिना बी एस सी बीएड के 17 वर्ष की अल्पायु में शिक्षक और अब पेंशन भी जारी बस्ती शिक्षा विभाग का बड़ाखेल!
सरकार को कानून व्यवस्था का दंभ, अपराधियों ने किया नाक में दम! लखनऊ में 7 साल की मासूम से अगवा कर दरिंदगी; 1 आरोपी गिरफ्तार, दूसरा फरार! हाईकोर्ट के पास सरेराह चौराहे पर महिला वकील की मोबाइल छीन लुटेरा फरार छात्रों के दो गुटों में संघर्ष, एक की मौत!
Image
नहर में ट्रैक्टर गिरने से दो की मौत
Image
अब मुख्तार के दो बेटों पर भी 25-25हजार के इनाम घोषित!