आर्थिक अवसाद से व्यापारी ने गोरखपुर में की आत्महत्या !

गोरखपुर, उत्तरप्रदेश


 


अवसाद व्यक्ति को कहा से कहा पहुचा रहा है,आएदिन आप धापी ओर आर्थिक शोषण महत्वाकांक्षी व्यक्तित्व युवाओं को हताश कर रहा है।गोरखपुर म3 भी यही हुआ।


 होटल व्‍यवसायी संजय मल्‍ल ने खुदकुशी कर ली है। उनका शव जेमिनी अपार्टमेंट के उनके फ्लैट में फंदे से लटकता मिला। वह यहां पिछले एक साल से किराए पर रहते थे। संजय रेलवे स्‍टेशन रोड पर किराए पर एक होटल का संचालन करते थे। 


पुलिस को संजय के कमरे से एक सुसाइड नोट मिला है जिसमें उन्‍होंने एक महिला पर करोड़ों रुपए हड़प लेने का आरोप लगाया है।


संजय की खुदकुशी को लेकर उनका परिवार सकते में आ गया है। मूल रूप से मऊ के मधुबन के रहने वाले संजय का गोरखपुर के रामजानकी नगर में अपना मकान है। इसके बावजूद उन्‍होंने शहर में किराए का फ्लैट क्‍यों ले रखा था इस बारे में कोई कुछ नहीं बता पा रहा है। यहां तक कि उनके परिवार को भी इस बारे में जानकारी नहीं थी। बताया जा रहा है कि सुसाइड नोट में संजय ने इन सारी बातों का खुलासा किया है। उन्‍होंने एक महिला पर करोड़ों रुपए हड़पने का आरोप लगाया है। पुलिस उस महिला की तलाश में जुट गई है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार महिला की पहचान कर ली गई है। संजय अपने पीछे एक बेटा, एक बेटी और पत्‍नी को छोड़ गए हैं। 


 


मिली जानकारी के अनुसार संजय दिखावे के लिए रामजानकीनगर में अपने निजी आवास पर परिवार के साथ भी रहते थे लेकिन दो दिन से वह वहां नहीं गए। परिवार उनकी तलाश में जुटा था। इसी दौरान उन्‍हें जेमिनी अपार्टमेंट में किराए के फ्लैट के बारे में पता चला। परिवार वहां पहुंचा तो कमरा अंदर से बंद था। काफी खटखटाने के बावजूद दरवाजा नहीं खुला तब परिवार ने सोसाइटी के लोगों और पुलिस को सूचना देकर बुलाया। सीसी कैमरे की फुटेज देखी गई तो पता चला कि फ्लैट में गए तो थे लेकिन काफी समय से बाहर नहीं निकले थे। इसके बाद पुलिस ने बढ़ई बुलाकर दरवाजे का लॉक तुड़वाया। अंदर संजय का शव फंदे से लटकता मिला। पुलिस ने शव को कब्‍जे में लेकर पोस्‍टमार्टम के लिए भेज दिया है


 


 


 


Comments