भारत नेपाल सीमा पर नेपाल की 100 किमी में सात सात चौकियों का क्या निहितार्थ ?


सिद्धार्थ नगर,/,खीरी उत्तर

भारत -नेपाल सीमा पर नेपाल नई पुलिस चौकियां बना रहा है। खीरी जिले से सटी करीब 100 किलोमीटर लम्बी सीमा पर सात चौकियां बनाई जा रही हैं। सीमा पर अवैध घुसपैठ, तस्करी व अपराध रोकने को नेपाल यह चौकियां बना रहा है। खीरी जिले के अफसर और नेपाल के अफसरों की चंदनचौकी में हुई संयुक्त बैठकों में सीमा सुरक्षा पर वार्ता हुई थी। इसी को लेकर नेपाल अपनी सीमा पर चौकसी बढ़ा रहा है। इसमें सात नई चौकियां लखीमपुर जिले से लगी लगभग 100 किलोमीटर लंबी सीमा पर खोली जा रही हैं। 

नेपाल के अधिकारियों के मुताबिक जिला कैलाली की लखीमपुर खीरी से लगती सीमा पर खुटाघाट, लट्ठे घाट, काला कुंडा, काला पताल, ललितपुर, बगिया प्रसाद आदि स्थानों पर बॉर्डर आउटपोस्ट (बीओपी) खोली जा रही हैं। इससे दो चौकियों के बीच की दूरी कम होगी और अवैध घुसपैठ, चोरी, तस्करी व अन्य अपराधों पर अंकुश लगाने में मदद मिलेगी। बताया जा रहा है कि नेपाल सशस्त्र पुलिस बल की चौकियों का निर्माण शुरू कर दिया है। इस बारे में नेपाल के समाचार पत्रों में खबरें भी प्रकाशित हो रही हैं। यह जानकारी मिलने के बाद एसएसबी भी चौकन्नी है।

यही कार्य नेपाल पुलिस पूरे नोमेन्स लेंड पर खीरी ,धार चूल रूपी डीहा, ककरहवा,सोनोली वार्डर पा होरहै है।सत्ताधारी पार्टी के अभय से यह एक एक किलोमीटर पर मदजिदो का निर्माण भी आम होगया है।

Comments