संतकबीरनगर में डी आई ओ यस के भ्र्ष्टाचार पर गरजे शिक्षक नेता !

 


 


 


सन्तकबीरनगर, उत्तरप्रदेश


। वुधवार को जिला विद्यालय निरीक्षक सन्तकबीरनगर के आर्थिक भ्रष्टाचार से आहत उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ का प्रतिनिधि मंडल मण्डलीय मंत्री/जिलाध्यक्ष संजय द्विवेदी के नेतृत्व में जिलाधिकारी दिव्या मित्तल गैर मौजूदगी में अपर जिलाधिकारी संजय पांडेय से मिला। इस दौरान 18 सूत्रीय ज्ञापन साक्ष्य सहित सौंपा, और सभी विन्दुओं पर वार्ता की। श्री द्विवेदी ने चेतावनी देते हुए कहा कि 20 अक्टूबर तक शिक्षक समस्याओं का समाधान नही हुआ तो 21 अक्टूबर जिला विद्यालय निरीक्षक कार्यालय पर धरना/प्रदर्शन कर डीआईओएस के भ्रष्टाचार की पोल खोली जाएगी। धरने की नोटिस जिलाधिकारी, संयुक्त शिक्षा निदेशक व जिला विद्यालय निरीक्षक को रिसिब करा दी गयी है।


 


            मांग पत्र में कहा गया है कि उमरिया बाजार आदर्श इण्टर कालेज, उमरिया बाजार में प्रधानाचार्य का पदभार वरिष्ठ व अर्हताधारी शिक्षक को नहीं दिया जा रहा है। विन्ध्याचल सिंह (प्रवक्ता) श्री सीताराम इण्टर कालेज सिरसी के प्रकरण में 25 सितम्बर 2020 को सुनवायी पूरी करने के बावजूद निर्णय नहीं दिया जा रहा है। सीताराम इण्टर कालेज सिरसी में लिपिक की नियुक्ति में अनियमितताओं की पुष्टि होने के बावजूद भी प्रभावी कार्यवाही नहीं की जा रही है। महेश राम (पूर्व प्रधानाचार्य/प्रवक्ता), श्री सीताराम इण्टर कालेज सिरसी के प्रधानाचार्य का विवाद  न्यायालय में विचाराधीन होने के बावजूद कार्यवाहक प्रधानाचार्य को वेतन भुगतान का आदेश निर्गत कर दिया गया है। उक्त आदेश को संयुक्त शिक्षा निदेशक ने पुर्नविचार के लिए वापस कर दिया है, फिर भी कार्यवाहक प्रधानाचार्य का वेतन भुगतान किया जा रहा है जिसे तत्काल रोका जाय। 


 


          उन्होंने बताया कि उदयभान सिंह (पूर्व प्रधानाचार्य/प्रवक्ता) हीरालाल रामनिवास इण्टर कालेज खलीलाबाद को प्रधानाचार्य का पदभार दिया जाय और उनके बकाया वेतन का भुगतान किया जाय। अरूंधती प्रधानाचार्य पीबी बालिका इण्टर कालेज खलीलाबाद के बकाया वेतन का भुगतान किया जाय। दीप्तिमान (मृतक शिक्षक), औद्योगिक पाल इण्टर कालेज हरिहरपुर के पेंशन व एलआईसी सहित अन्य देयकों का भुगतान सुनिश्चित कराया जाय। राष्ट्रीय इण्टर कालेज पारसनगर बेलहर में प्रधानाचार्य का पदभार वरिष्ठ व अर्हतादारी शिक्षक को दिया जाय।


 


           उन्होंने बताया कि एनपीएस से संबंधित प्रान एकाउन्ट को अपडेट किया जाय तथा नियमानुसार प्रत्येक विद्यालयों में पासबुक तैयार कराया जाय। चयन वेतनमान, प्रोन्नति वेतनमान, एसीपी व तदर्थ प्रधानाचार्यो के वेतन संबंधित मामलों का त्वरित निस्तारण कराया जाय।  वर्ष 2019 व 2020 में बोर्ड परीक्षा के उत्तर पुस्तिकाओं के मूल्यांकन के बकाया पारिश्रमिक का भुगतान कराया जाय।  जनपद विभाजन के पूर्व बस्ती व सिद्धार्थनगर कोषागार में जमा जी0पी0एफ0 की धनराशि व्याज सहित वापस लाया जाय। वित्त विहीन शिक्षकों की सेवा सुरक्षा करते हुए उनके मानदेय भुगतान के लिए जनपद के सभी वित्त विहीन विद्यालयों के प्रबन्धकों को निर्देश जारी किये जाये। शिक्षक, शिक्षणेत्तकर कर्मचारियों के बकाया एरियर का भुगतान किया जाय।


 


          इस दौरान गिरिजानन्द यादव, महेश राम, हरिकेश बहादुर यादव, लाल चन्द्र यादव, विन्ध्याचल सिंह, कमर आलम, विनोद चौरसिया, जितेंद्र कुमार, अभिषेक शर्मा, महेश्वर सिंह, विनोद श्रीवास्तव, गोपाल जी सिंह, जय गोपाल सहित अन्य मौजूद रहे।


 


 


 


Comments
Popular posts
सड़क किनारे मिली वृद्धा की लाश
Image
बेसिक शिक्षा अधिकारी सही पर उनका तरीका गलत,जाँच में आंच की संभावना कम
कृष्ण देव मिश्र बस्ती प्रेस क्लब के चुनाव अधिकारी होंगे
*पं. गणेश प्रसाद मिश्र सेवा न्यास द्वारा सतना में पर्यावरण व स्वास्थ्य शिविर के कार्य शहर की ज़रूरत : योगेश ताम्रकार * *848 मरीज़ों का 16 जिलों से आये आनलाइन पंजीयन उल्लेखनीय सेवा कार्य: उत्तम बनर्जी * * तिरंगा ध्वज व वृक्षारोपण राष्ट्रीय अभियान में सभी संगठनों से सहयोग की अपील: कलेक्टर अनुराग वर्मा * *मेदांता द्वारा आयोजित दो-दिवसीय निःशुल्क चिकित्सा शिविर उद्घाटित: शंकरलाल तिवारी * *मेदांता हॉस्पिटल दिल्ली के डॉक्टरों की टीम ने पहले दिन 534 मरीजों का किया परीक्षण एवं 1693 जाँचें हुईं।*
Image
आई जी आर यस शिकायतों के निस्तारण में स्वास्थ्य,वेसिक शिक्षा, पंचायती राज विभाग कलक्टर की क्लास में पूरे फेल
Image