बेरोजगारी पर भाजपा मौन !

 


बस्तीः


बेरोजगारी के मुद्दे पर भारतीय जनता पार्टी मौन है। भारत के प्रधानमंत्री अनेकों बार जनता को अपने मन की बात सुना चुके हैं लेकिन सत्ता में आने के बाद उन्होने कभी जनता के मन बात जानने की कोशिश नही की। यह बातें वरिष्ठ कांग्रेसी नेता एवं पीसीसी सदस्य प्रेमशंकर द्विवेदी ने कहीं। यहां मीडिया को जारी बयान में श्री द्विवेदी ने कहा देश का नौजवान कुंठित है।


 


उसकी बौद्धिक क्षमता देश के निर्माण में नही नही लग रही है, बल्कि युवा उल्टे सीधे काम कर रहे हैं, गलत सलत कदम उठा रहे हैं। जिस देश का युवा अस्थिरता के वातावरण में जी रहा है उस देश को सशक्त और आत्मनिर्भर बनाने की बात करना बेमानी है। देश का हर युवा प्रधानमंत्री से सवाल कर रहा है आखिर बेरोजगारी के मुद्दे पर सत्ता मौन क्यों है। कांग्रेस नेता ने कहा प्रधानमंत्री संवेदनशील हैं तो उन्हे बेरोजगारी के मुद्दे पर युवाओं से बात करनी चाहिये, उनके भविष्य के बारे में सेचना चाहिये। जितनी तल्लीनता से वे मन की बात जनता से करते हैं उतनी ही तल्लीनता से उन्हे जनता के मन की भी बात सुननी चाहिये।


 


कांग्रेस प्रवक्ता मो. रफीक खां ने कहा बेरोजगारी, महंगाई और उद्योगहीनता जैसे ज्वलन्त समस्याओं का समाधान महज कांग्रेस के पास है। छल कपट, नफरत और गुमराह करने की राजनीति ने असल विकास को काफी पीछे धकेल दिया है। दो चक्र भाजपा की सरकार बनने के बाद देश को विकास की मुख्य धारा में लाने के लिये 50 साल का वक्त लगेगा। कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा जनता भाजपा को बहुमत देकर पछता रही है। जगह जगह मूल्यांकन हो रहा है। आने वाले चुनावों में भाजपा को अपने कर्मो का नतीजा मिलेगा और जनता उन्हे हाशिये पर ले जायेगी


Comments