योगी सरकार युवाओ में अवसाद व जीवन के प्रति अस्थिरता का माहौल बना रही है,कांग्रेस

बस्तीः


उत्तर प्रदेश की योगी सरकार युवाओं को अस्थिरता के वातावरण में ले जा रही है, नाकामियों और नये जमाने की चमक दमक के साथ खुद को समायोजित न कर पाने के कारण युवा पहले ही गहरे अवसाद का सामना कर रहे हैं, ऐसे में संविदा पर सरकारी नौकरी का नया फरमान उनके भविष्य को चौपट करने वाला है।


 


वरिष्ठ कांग्रेसी एवं पीसीसी सदस्य प्रेमशंकर द्विवेदी ने कहा कि सरकार के इस फैसले से सरकारी नौकरियों में रिश्वतखोरी, आत्महत्या, परीक्षाओं में पास करने के नाम पर सौदेबाजी की घटनायें बढ़ेंगी। युवा निराश होकर उल्टे सीधे कदम उठायेंगे। 25 से 30 साल की उम्र में नौकरी मिलेगी, 5 साल इम्तेहान में बीत जायेंगे, और खुद को साबित करने पर यदि स्थायीकरण हुआ तो 15 साल बाद वे सेवानिवृत्त हो जायेंगे। निःसंदेह सरकार का ये निर्णय अविवेकपूर्ण और युवाओं के भविष्य को चौपट करने वाला है। कांग्रेस योगी सरकार की इस नीति का पुरजोर विरोध करती है।


 


कांग्रेस नेता ने कहा नियुक्तियां निकालकर सरकार को पारदर्शी तरीके से परीक्षायें आयोजित कर युवाओं को अवसर प्रदान करना चाहिये। युवाओं का सिरदर्द बढ़ा रही है। युवा ऊर्जा गलत दिशा में प्रवाहित हुई तो इसका नतीजा सभी जानते हैं। स्थितियां दुर्भाग्यपूर्ण है, देश में ऐसा वातावरण तैयार हो चुका है जिसमे युवा ऊर्जा का इस्तेमाल राष्ट्रनिर्माण में नही हो रहा है। निजीकरण, कृषि अध्यादेश और एसएसएफ का गठन सरकार के तानाशाही रवैये का दस्तावेज है। ऐसे में जनता को मुखर होकर अपने अधिकारों के लिये लड़ना होगा। चूक हुई तो अगली पीढ़ी कभी माफ नही करेगी।


 


Comments