सहकारी आंदोलन के आदि पुरुष भगवान श्री राम थे,सहकारिता सभ्य समाज की प्राणवायु! --संतराज यादव

बस्ती


,समाज के सर्वागीण विकास में सहकारिता का योगदान अप्रतिम है,देश के प्रथम सहकारी आंदोलन को गति देने वाले भगवान राम ने वनवासियों व गिरि वासियो को सँगठित कर रावण के अहकर को समाप्त किया था.वही काम आगे चलकर देश मे प्रचलित हुआ ,अब देश मे सहकारी आंदोलन को भारतीय जनता पार्टी जनांदोलन बना कर जारही है.ऊक्त उद्गार आज उत्तरप्रदेश भूमि विकास बैंक के नवनियुक्त अध्यक्ष  संतराज यादव ने गोरखपुर जाते समय मूड घाट पर किसान नेता व बस्ती सहकारी बैंक के संचालक रामशंकर यादव की अग्यवाई में आयोजित स्वागत समारोह में उन्होंने व्यक्त किया.


उन्होंने सरकार की सहकारिता की प्रथमिकताये  गिनाई,बस्ती गोरखपुर मण्डल में सहकारी आंदोलन को गतिमान करने व कार्यक्रमो के  क्रियान्वयन की प्रथमिकताये गिनाई।उन्होंने कहा योगीजी की सरकार में प्रदेश सुरक्षित है और उन्होंने एक परिवार के मुख से सहकारिता को निकाल कर आम जन में ग्राह्य बनाया,जिसकी एक देन मेरे जैसा कार्यकर्ता है.


संतराज यादव ने स्वागत  से अभिभूत हो कर कहा बस्ती भूमि विकास बैंक की दशा सुधारने हेतु पहल किया जाएगा


एक अन्य स्वागत में भारतीय जनतापार्टी के अध्यक्ष महेश शुक्ल,महामंत्री राम चरन,क्रय विक्रय के अध्यक्ष सुनील यादव,भूमि विकास बैंक के संचालक ओम प्रकाश तिवारी,अशोक सिंह,वैभव पांडेय,रविन्द्र गौतम,क्रय विक्रय के उपाध्यक्ष मिट्ठू प्रसाद,सनचालक अशोक तिवारी,प्रदीप मिश्र,शिव पूजन मिश्र सहित अनेक गणमान्य की सार्थक उपस्थिति रही।


Comments