पुलिस ने हरदोई की 3 लड़कियों को सण्डीला में लवजिहादियो के चंगुल से मुक्त कराया !

मनोज श्रीवास्तव/लखनऊ


। हिन्दू नाम से फर्जी फेसबुक आईडी बना कर हरदोई के मुसलमान युवकों द्वारा छत्तीसगढ़ की हिन्दू लड़कियों को प्रेम जाल में फंसा कर कैद कर लिया। लड़कियों का जेवर, नकदी छीन कर उन्हें बाहर निकलने पर जान से मार डालने की धमकी देकर कमरे में बंद कर दिया। बिलासपुर से बहला-फुसलाकर लाई गईं तीन हिन्दू लड़कियों को पुलिस ने कांशीराम कॉलोनी से दो युवकों के चंगुल से मुक्त कराया।


युवकों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है।हिंदूवादी संगठनों ने इन युवकों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की है। पूछताछ में (27) वर्षीय, (16) वर्षीय व (17) वर्षीय किशोरी ने बताया कि संडीला के कांशीराम कालोनी निवासी दो मुस्लिम युवकों ने अपने नाम बदल कर लगभग एक साल पहले सोशल मीडिया के जरिए उनसे दोस्ती की। धीरे-धीरे उन्हें अपने प्रेमजाल में फंसाया। इसके बाद तीनों से संडीला आने को कहा।


लगभग एक सप्ताह पहले तीनों घर से घूमने जाने का बहाना कर निकल पड़ीं। बिलासपुर से बस द्वारा इलाहाबाद पहुंचीं। यहां दोनों युवक मिल गए। वहां से बस द्वारा वाया लखनऊ होते हुए वे गुरुवार को दिन में संडीला स्थित कांशीराम कालोनी आए। यहां एक मकान में रखा और नकाब पहनने को कहा तभी पता चला कि दोनों युवक दूसरे समुदाय के हैं। जिसके बाद हम लोगों ने विरोध किया। जिसके बाद हमको घर मे बन्द कर दिया गया और जेवर रुपये छीन लिए गए तथा रेप का भी प्रयास किया गया। किसी तरह से जब युवतियों ने वहां शोर मचाया तो आसपास के लोगों ने मामले की सूचना बजरंग दल के शेखर पांडेय को दी।


उन्होंने तत्काल पुलिस को खबर दी। लड़कियों से पूछताछ में सच्चाई सामने आ गई। दोनों युवकों को पकड़ने के साथ तीनों लड़कियों को पुलिस को सौंप दिया गया। कोतवाल सूर्य प्रकाश शुक्ला का कहना है कि उन्हें लड़कियों की ओर से कोई तहरीर नहीं मिली है। फिलहाल तीनों लड़कियों को मातृ शक्ति संगठन की सुपुर्दगी में दे दिया गया है। आरोपित दोनों युवक हिरासत में है उनसे पूछताछ की जा रही है। लड़कियों की डॉक्टरी कराई जा रही है।


 


Comments