कल ही प्रमोशन डिप्टी यस पी पर आज दुर्घटना में म्रत्यु

कौटिल्य वार्ता
By -
0

 


 


 


कल ही इंस्पेक्टर से सीओ के पद पर प्रमोशन हुआ, आज दुर्घटना में हुई मौत


मनोज श्रीवास्तव/ लखनऊ। इटावा जनपद के सैफई के पास आगरा एक्सप्रेसवे के 108 चैनल पर कार के डिवाइडर से टकरा कर पटलने से दो लोगों की मौत हो गयी। मौके पर उपस्थित लोगों के अनुसार चलते-चलते अचानक कार का दाहिना पहिया जाम हो गया। जिसके कारण कार का वैलेंस चालक के हाथ से अनियंत्रित हो गया। कार डिवाइडर से टकराकर बायें साइड पलट गई, जो कि इनके पुत्र मानवेन्द्र चला रहे थे। राहगीरों ने पुलिस को सूचना दिया। उसके बाद घटनास्थल से एम्बुलेन्स द्वारा घायलो को सैफई पीजीआई ले जाया गया। अस्पताल पहुंचने से पहले रास्ते में ही समरजीत सिंह व उनके ससुर कमलेश सिंह ने दम तोड़ दिया। बाकी घायलों का इलाज सैफई में चल रहा है। कार मे समरजीत सिंह के लडके दो लडके मानवेन्द्र सिंह व समरेन्द्र सिंह, उनके साले राजीव सिंह एवं उनके ससुर कमलेश सिंह सहित 5 लोग सवार थे। कार छोटा लडका मानवेन्द्र चला रहा था। समरजीत सिंह सहारनपुर में पुलिस विभाग मे इंस्पेक्टर के पद पर तैनात थे। गुरुवार को उत्तर प्रदेश गृहविभाग में इंस्पेक्टर से पुलिस उपाधीक्षक बने इंस्पेक्टररों की निकली सूची में समरजीत सिंह का भी नाम था। समरजीत सहारनपुर में तैनात थे। इंस्पेक्टर गाजियाबाद से ब्रेजा कार द्वारा अपने ससुराल ग्राम जीरादेई जिला सिवान से होकर अपने पैतृक गांव पटनाघाट बड़हलगंज के लिये जा रहे थे।हादसे में बेटे मानवेन्द्र, सर्वेंद्र, साले राजीव सिंह, नाती जीत मामूली रूप से हुए घायल हुये हैं। हादसे की सूचना मिलने के बाद एसएसपी आकाश तोमर, पुलिस अधीक्षक ग्रामीण ओमवीर सिंह समेत कई पुलिस अफसर सैफई मेडिकल यूनिवर्सिटी पहुंच गये थे। इस बीच जैसे ही गोरखपुर के बड़हलगंज थाना क्षेत्र के ग्राम पंचायत पटनाघाट में सूचना पहुंची कि प्रधान हृदय शंकर सिंह के चचेरे भाई समरजीत सिंह उर्फ विनोद सिंह 55 वर्ष व उनके ससुर कमलेश सिंह 70 वर्ष की सडक दुर्घटना में शुक्रवार की सुबह 10 बजे मृत्यु हो गई, पूरा गांव शोक में डूब गया


Post a Comment

0Comments

Post a Comment (0)