जौनपुर ।जौनपुर पुलिस सन्दिग्ध,दबारही है दुष्कर्म का मामला

कौटिल्य वार्ता
By -
0

जौनपुर, उत्तर प्रदेश


दुष्कर्म के मामलों को दबा रही पुलिस
जौनपुर। जनपद के कई थाना क्षेत्रों में दुष्कर्म के मामलों में पुलिस टाल मटोल करती है और छानबीन के नाम पर मामले को दबा देती है उसे आपसी रंजिश का मामला अधिकारियों को बताकर पीड़ितों को धमकी देकर चुप करा देती है। केराकत कोतवाली क्षेत्र के एक गांव में मड़हे में सो रही युवती के साथ पड़ोसी व्यक्ति पर चाकू की नोंक पर दुष्कर्म किया है। पुलिस तहरीर लेकर मामले में छानबीन कर रही है। पीड़िता के चाचा द्वारा कोतवाली में दी गई तहरीर के मुताबिक उनकी 18 वर्षीय भतीजी तीन दिन पहले घर के सामने मड़हे में दो बच्चों संग सोई थी। आरोप है कि रात में गांव का 42 वर्षीय व्यक्ति मड़हे में घुस गया। उसने बच्चों को चाकू दिखाकर जान से मार डालने की धमकी देकर आतंकित करते हुए युवती के साथ दुष्कर्म किया और भाग गया। बिना मां-बाप की पीड़िता ने दूसरे दिन दिल्ली में रहने वाली अपनी दीदी व जीजा को मोबाइल फोन पर आपबीती बताई। दीदी-जीजा के बताने पर परिजन को मामले की जानकारी हुई। तहरीर में आरोपित को नामजद किया गया है। पुलिस तहरीर लेकर मुकदमा दर्ज किए बिना छानबीन कर रही है। ज्ञात हो कि सरायख्वाजा थाना क्षेत्र के सलहदीपुर गांव में बीते सात मई को रात में एक किशोरी शौच के लिए जा रही थी कि गांव के रिटायर्ड टयुबेल आपरेटर ने उसे पकड लिया और गमछे में बांधकर नाले के पास खीच ले गया और दुश्कर्म किया। पीड़िता केभाई ने जिलाधिकारी और  अपर पुलिस अधीक्षक नगर को प्रार्थना पत्र दिया लेकिन अभी तक न तो मुकदमा दर्ज हुआ न तो किशोरी का मेडिकल कराया गया। उधर इलाके के दरोगा पीिड़त को धमकी दे रहा है कि अधिकारियों के पास जाओंगे तो तुम लोगों को जेल भेज दिया जायेगा।


Post a Comment

0Comments

Post a Comment (0)